राजस्थान: लोकसभा सीट पर उम्मीदवारी को लेकर बढ़ सकती हैं कांग्रेस की मुश्किलें

कांग्रेस लोक सभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों का बायोडाटा तैयार करने का काम बड़ी जोर शोर से कर रही है

राजस्थान: लोकसभा सीट पर उम्मीदवारी को लेकर बढ़ सकती हैं कांग्रेस की मुश्किलें
कांग्रेस में एक ही सीट पर कई नेताओं की दावेदारी की खबरें सामने आने लगी हैं

भूपेश आचार्य/जयपुर: राजस्थान में कांग्रेस विधानसभा चुनाव जीतने के बाद अब लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुट गई है. इसी कड़ी में कांग्रेस लोकसभा चुनाव के  लिए प्रत्याशियों का बायोडाटा तैयार करने का काम बड़ी जोर शोर से कर रही है. इस बीच बाड़मेर जैसलमेर लोकसभा सीट को लेकर कांग्रेस की दावेदारी को लेकर राजस्थान सरकार में राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने एक सवाल के जवाब में बड़ा बयान दे डाला चौधरी ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी उन्हें बाड़मेर जैसलमेर लोकसभा सीट से टिकट देती है तो वह चुनाव लड़ने के लिए तैयार है.

सियासी गलियारों में अब इस बात की चर्चा जोरों पर है कि हरीश चौधरी का बयान एक बात तो साफ करता है कि हरीश चौधरी के मन में अभी भी केंद्रीय राजनीति में जाने की इच्छा चल रही है. हालांकि वह सरकार में मंत्री बन गए हैं लिहाजा कुछ भी खुल कर बोल नहीं पा रहे हैं. चौधरी ने दौरान भाजपा पर जमकर प्रहार करते हुए कहा कि आज हम से वह लोग सवाल पूछ रहे हैं जो 5 साल सत्ता में थे जिन्होंने किसानों की ऋण माफी के लिए मार्च 20 घोषणाएं की और जब 8000 करोड़ का ऋण माफ करना था तो उसकी जगह सिर्फ दो हजार करोड़ रुपए का ऋण माफ किया. हमारी सरकार ने तो 10 दिन के अंदर आते ही घोषणा कर दी ऋण माफी की.

साथ ही उन्होने कहा कि भाजपा के पास अभी अधिकार नहीं है कि वह किसानों की ऋण माफी पर कोई हमसे सवाल करें क्योंकि उन्होंने किसानों को लेकर पिछले 5 सालों में कोई भी काम नहीं किया है. वहीं हरीश चौधरी ने लोकसभा चुनाव को लेकर यह बयान दिया कि वह लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं. जबकि बाड़मेर जैसलमेर लोकसभा सीट पर इससे पहले भाजपा में पूर्व मंत्री जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह का साफ कहना था कि वह अपना लोकसभा चुनाव बाड़मेर जैसलमेर से कांग्रेस की टिकट पर लड़ेंगे. 

मानवेंद्र सिंह बाड़मेर जैसलमेर लोकसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों और सामाजिक कार्य में शिरकत कर जनसम्पर्क कर रहे हैं. ऐसे में अब सबसे बड़ा सवाल उठता है कि कांग्रेस दोनों नेताओं में से किसको तरहीज देगी. बता दें कि हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में मानवेंद्र सिंह ने बीजेपी छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया था. कांग्रेस ने उन्हें विधानसभा चुनाव में राजस्थान बीजेपी के सबसे ताकतवर चेहरा और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ झालरापाटन सीट से मैदान में उतारा था. हालांकि विधानसभा चुनाव के रण में मानवेंद्र सिंह हार का समना करना पड़ा था.