राजस्थान: भ्रष्टाचार पर सख्त गहलोत सरकार, CM ने ACB को लेकर उठाया यह बड़ा कदम

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में यूनिफाईड टेलीफोन नम्बर यानी कि टोल फ्री नम्बर 1064 शुरू करने की तैयारियां हो चुकी है.

राजस्थान: भ्रष्टाचार पर सख्त गहलोत सरकार, CM ने ACB को लेकर उठाया यह बड़ा कदम
अब लोग फोन पर भी सरकारी कार्यालयों या आसपास हो रहे भ्रष्टाचार की शिकायत कर सकेंगे.

विष्णु शर्मा/जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार प्रदेश में भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों पर एक और कड़ा प्रहार करने जा रही है. अब प्रदेश में किसी भी गांव-ढाणी से भ्रष्टाचार की शिकायत की जा सकेगी. बस इसके लिए सिर्फ एक फोन घुमाना होगा. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में जल्द ही टोल फ्री नम्बर 1064 की सेवा शुरू होने जा रही है. 
 
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में यूनिफाईड टेलीफोन नम्बर अर्थात टोल फ्री नम्बर 1064 शुरू करने की तैयारियां हो चुकी है. इसकी स्थापना के लिए सॉफ्टवेयर और सर्वर की खरीद के लिए एक लाख 95 हजार रुपए का बजट जारी कर दिया गया है. गृह विभाग ने सर्वर खरीद की प्रशासनिक और वित्तीय स्वीकृति जारी कर दी है. 

मुख्यमंत्री ने समीक्षा में दिए थे निर्देश
दरअसल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले महीने एसीबी मुख्यालय में बैठक की थी. बैठक में मुख्यमंत्री गहलोत ने एसीबी डीजी आलोक त्रिपाठी और अन्य अधिकारियों को एसीबी में हेल्प लाइन शुरू करने के निर्देश दिए थे, ताकि आम आदमी एसीबी मुख्यालय पहुंचे बिना भ्रष्टाचारियों की शिकायत कर सकें. 

गृहमंत्रालय से ली गई मंजूरी 
इसके बाद एसीबी अधिकारी हेल्पलाइन लगाने की तैयारी में जुट गए. केंद्रीय गृहमंत्रालय से हेल्पलाइन के नम्बर की मंजूरी ली गई. इसके बाद सर्वर और सॉफ्टवेयर के लिए गृह विभाग को प्रस्ताव भेजा. गृह विभाग ने प्रस्ताव को मंजूर करते हुए एक लाख 95 हजार रुपए का बजट जारी कर दिया.  

सामने  शिकायत से डरते हैं लोग
प्रदेश में अब भी लोग सामने आकर शिकायत करने से डरते हैं. इसलिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हेल्पलाइन शुरू करने के निर्देश  दिए थे. अब लोग फोन पर भी सरकारी कार्यालयों या आसपास हो रहे भ्रष्टाचार की शिकायत कर सकेंगे.