राजस्थान: राजीव आवास योजना फिर पकड़ेगी रफ्तार, अधूरे प्रोजेक्ट को किया जाएगा पूरा

जयपुर के विद्याघर नगर इलाके में इस प्रोजेक्ट को बजट की वजह से पूरा नहीं किया जा सका. जिसके चलते अब तक ये योजना पूरी नहीं हो सकी.

राजस्थान: राजीव आवास योजना फिर पकड़ेगी रफ्तार, अधूरे प्रोजेक्ट को किया जाएगा पूरा
अब इस प्रोजेक्ट को जल्द पूरा कर ईडब्लूएस श्रेणी के लोगों को ये मकान मुहैया करवाए जा सकेगें.

रोशन शर्मा/जयपुर: केंद्र की पूर्व मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) सरकार के कार्यकाल में शुरू हुई राजीव गांधी आवास योजना (Rajiv Gandhi Awas Yojana) को उस वक्त बढ़े जोर-शोर से सरकार ने लांच किया था.

मनमोहन सरकार दस साल तक रही मगर योजना का काम पूरा नहीं हो सका. इसके बाद साल 2014 में केंद्र में नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार आ गई. मोदी सरकार ने इस योजना को नए तरह से प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी और ग्रामीण (Pradhanmantri Awas Yojna Urban and Rural) के नाम से शुरु किया.

जयपुर के विद्याघर नगर इलाके में इस प्रोजेक्ट को बजट की वजह से पूरा नहीं किया जा सका. जिसके चलते अब तक ये योजना पूरी नहीं हो सकी. अब इस प्रोजेक्ट को पूरा करने को लेकर काम किया जा रहा है. बता दें कि, यूडीएच मंत्री धारीवाल भी कई बार बैठकों में प्रोजेक्ट्स को तय समय पर पूरा करने का निर्देश दे चुके हैं. मगर सिस्टम की सुस्ती दूर होने का नाम नहीं ले रही है.

नाराजगी भी लाजमी है, क्योंकि हकीकत यह है कि, राजस्थान के करीब करीब हर शहर में सीएम और पीएम आवास योजना लांच हुए एक लम्बा अरसा बीत गया. मगर योजना के कामकाज में इतने स्पीड ब्रेकर है कि, टार्गेट तो छोड़िए कई जगह तो योजना का काम कागजों से बाहर ही नहीं निकल पाया है.

हालांकि, अब उम्मीद जगाई जा रही हैं कि, अब इस प्रोजेक्ट को जल्द पूरा कर ईडब्लूएस श्रेणी के लोगों को ये मकान मुहैया करवाए जा सकेगें.