राजस्थान: बापू और झांसी की रानी के साथ कई स्वतंत्रता सेनानियों ने की वोट डालने की अपील

बच्चों ने कहा कि एक वोट से एक अच्छा व्यक्ति चुनकर लोकसभा में जा सकता है इसलिए सभी को वोट करना चाहिए. 

राजस्थान: बापू और झांसी की रानी के साथ कई स्वतंत्रता सेनानियों ने की वोट डालने की अपील

सरदारशहर: चुनाव आयोग जगह जगह मतदाताओं को जागरूक करने के लिए अलग-अलग अभियान चलाकर लोगों से वोट डालने की अपील कर रहा है. इसी कड़ी में गुरुवार को शहर के कई सार्वजनिक स्थानों पर उस समय लोग हैरान रह गए जब महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद, झांसी की रानी लक्ष्मी बाई, भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु ने लोगों से सड़कों पर निकल कर वोट डालने की अपील की.

दरअसल, शहर के स्कूली छात्र-छात्राओं ने महापुरुषों की वेशभूषा पहनकर चाय की दुकानों, सब्जी के ठेले और बस स्टेंड पर बसों में जाकर लोगों से वोट डालने की अपील की. इस दौरान महापुरुषों की वेशभूषा पहने छोटे-छोटे बच्चों ने लोगों को समझाया की किस प्रकार से एक वोट का हमारे और हमारे देश के विकास में योगदान रहता है. 

बच्चों ने कहा कि एक वोट से एक अच्छा व्यक्ति चुनकर लोकसभा में जा सकता है इसलिए सभी को वोट करना चाहिए. झांसी की रानी ने बस में बैठी महिलाओं को समझाया कि जब झांसी की रानी लक्ष्मीबाई अंग्रेजों से लड़ते हुए शहीद हो सकती है तो इस लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को भी बड़ी संख्या में मतदान करना चाहिए और हमारे लोकतंत्र को मजबूत करना चाहिए. इस दौरान महिलाओं ने भी छोटे-छोटे बच्चों को विश्वास दिलाया कि निश्चित रूप से इस बार हम घरों से निकलकर मतदान जरूर करेंगे.

आमजन का भी बच्चों के प्रति सकारात्मक रवैया रहा. इस दौरान आम लोगों ने कहा कि बच्चों की वाकई में सराहनीय पहल है. बच्चों की इस पहल पर भविष्य में निश्चित रूप से हमारा लोकतंत्र मजबूत होगा और बिना किसी भेदभाव के लोग जरूर मतदान करेंगे ताकि एक अच्छी सरकार देश मैं बन सके और देश का विकास हो सके.

बच्चों ने कहा हमारे कर्तव्य को पहचाने
अलग-अलग महापुरुषों कि वेशभूषा में बच्चों ने इस दौरान लोगों से आग्रह किया कि इस समय देश में चुनाव चल रहे हैं और चुनाव को ध्यान में रखते हुए हमें भी अपने कर्तव्यों का ध्यान करते हुए वोट जरुर डालना चाहिए क्योंकि हमें आजादी महापुरुषों के बलिदान से उन के त्याग और तप से मिली है. इसलिए जिस प्रकार का सपना महात्मा गांधी ने भारत के लिए देखा था उसे साकार करने के लिए हमें मतदान जरूर करना चाहिए और एक साफ-सुथरी छवि के व्यक्ति को लोकसभा में भेजकर देश के निर्माण में हमें भी अपना योगदान देना चाहिए. इसलिए बिना किसी जाति धर्म के एक सच्चे व्यक्ति को चुने ताकि आने वाले समय में भारत का तेजी से विकास हो और महापुरुषों के सपनों का भारत बन सके.