राजस्थान: मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए विधानसभा की तर्ज पर तैयार किए जाएंगे महिला बूथ

महिलाओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए महिलाओं से जुड़ी एक्टिविटी कराने के निर्देश निर्वाचन विभाग ने कलेक्टरों को दिए हैं.

राजस्थान: मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए विधानसभा की तर्ज पर तैयार किए जाएंगे महिला बूथ
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर: लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगने वाली है. इसके चलते निर्वाचन विभाग प्रदेश में पिछली बार की तुलना में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए स्वीप गतिविधियों पर फोकस कर रहा है. जिससे मतदान प्रतिशत बढ़ाया जा सके. 

निर्वाचन विभाग ने पिछले लोकसभा चुनाव में कम मतदान प्रतिशत रहने वाले जिलों को पत्र लिखा है. इसके साथ ही महिला मतदान प्रतिशत कम रहने वाले जिला कलक्टरों को भी पत्र लिखा गया है. जिसमें कलेक्टरों को महिला और युवाओं से जुड़ी एक्टिविटी कराने के निर्देश दिए गए हैं ताकि महिलाओं में मतदान के प्रति जागरूकता बढ़ सके. 

महिलाओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए महिलाओं से जुड़ी एक्टिविटी कराने के निर्देश निर्वाचन विभाग ने कलेक्टरों को दिए हैं. हाल ही के विधानसभा चुनाव में महिला सशक्तिकरण के लिए हर विधानसभावार एक महिला फ्रेंडली बूथ बनाया गया था. उसी तर्ज पर लोकसभा चुनाव में भी महिला फ्रेंडली बूथ बनाए जाएंगे, जिनकी संख्या विधानसभा से ज्यादा होगी. महिला फ्रेंडली बूथों पर महिला कर्मचारी ही तैनात होंगे. 

2014 लोकसभा चुनाव में 63.08 मतदान प्रतिशत रहा था. जिसमें महिला मतदान प्रतिशत 61.27 था. निर्वाचन विभाग ने लोकसभा चुनाव में 65 प्रतिशत मतदान का लक्ष्य रखा है.