close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शर्मनाक: तीन नाबालिगों के साथ दुष्कर्म, कानून वयवस्था पर बीजेपी ने उठाए सवाल

राजस्थान के तीन अगल- अलग हिस्सों में तीन नाबालिग लड़कियों से बलात्कार के मामले दर्ज किए गए हैं.

शर्मनाक: तीन नाबालिगों के साथ दुष्कर्म, कानून वयवस्था पर बीजेपी ने उठाए सवाल
प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी ने हालत चिंताजनक बताई है. (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर: राजस्थान के तीन अगल- अलग हिस्सों में तीन नाबालिग लड़कियों से बलात्कार के मामले दर्ज किए गए हैं. इनमें से अलवर के मामले में तो एक आरेापी की पीड़िता के परिजनों द्वारा की गयी कथित पिटाई में हुई मौत का मामला भी शामिल है. 

पुलिस का कहना है कि अलवर जिले के एक गांव में तीन किशोरों ने गांव में अपने एक रिश्तेदार की शादी में आई नाबालिग से कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया. घटना 14 मई की है.

जिला पुलिस अधीक्षक परिस अनिल देशमुख ने शनिवार को बताया,'‘ लड़की के परिवार वालों ने उन्हें उसी रात देख लिया था लेकिन एक आरोपी भाग गया और दो छिप गए. अगली सुबह पीड़िता के भाई ने दो आरोपियों को एक जगह छिपे हुए देखा तो उसने व अन्य लोगों ने उनकी पिटाई की लेकिन वह किसी तरह भागने में सफल रहे.’' 

उन्होंने बताया,'‘ एक आरोपी बाद में सड़क के किनारे मृत मिला. लड़की व लड़के दोनों के परिवार वालों ने मामला दर्ज करवाया है. पीड़िता की मां ने तीन आरोपियों के खिलाफ तो मृतक लड़के के परिवार वालों ने लड़की के भाई व पांच -छह अन्य के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है.'’  जांच अधिकारी रामजीलाल ने कहा कि बलात्कार के दोनों आरोपियों को शुक्रवार को पकड़ लिया गया और उन्हें 29 मई तक बाल सुधार गृह भेजा गया है.

चुरू में छह साल की एक बच्ची से उसके ही एक रिश्तेदार किशोर द्वारा बलात्कार का मामला दर्ज किया गया है. भानीपुरा पुलिस थाने के थानाधिकारी मलकीयत सिंह ने बताया, ‘‘लड़की पानी लेने गयी थी तभी 14 साल का आरोपी उसे सुनसान जगह ले गया और अपराध किया. उसे हिरासत में ले लिया गया है.'’ 

वहीं, धौलपुर जिले के एक गांव में आठ साल की एक बच्ची से दुष्कर्म की घटना सामने आई है. धौलपुर के महिला थाना के थानाधिकारी यशपाल सिंह ने कहा, '‘अपने नाना के पास रह रही बच्ची से परवेश (18) ने दुष्कर्म किया. उसे आज पकड़ लिया गया.'’ 

इस बीच, भाजपा व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने राज्य में महिलाओं के खिलाफ अपराध को लेकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी ने कहा, ‘‘राज्य में हालात चिंताजनक हैं जहां हर रोज महिलाओं के खिलाफ अपराध के नये मामले सामने आ रहे हैं. राज्य सरकार पूरी तरह संवेदनहीन है और महिलाएं कांग्रेस राज में सुरक्षित महसूस नहीं कर रही.’’ 

सामाजिक कार्यकर्ता कविता श्रीवास्तव ने राज्य सरकार पर महिला सुरक्षा के मामले में पूरी तरह विफल रहने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस बारे में मुख्यमंत्री कार्यालय को संयुक्त ज्ञापन शुक्रवार को सौंपा गया.