रामनाथ कोविंद बने देश के 14वें राष्ट्रपति, 25 को लेंगे शपथ

रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्‍ट्रपति चुन लिए गए हैं. उन्होंने विपक्ष के उम्मीदवार मीरा कुमार को 65 प्रतिशत से अधिक वोट से हराया.

रामनाथ कोविंद बने देश के 14वें राष्ट्रपति, 25 को लेंगे शपथ
चयनित राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को 65 फीसदी से अधिक वोट मिले (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली : सत्तारूढ़ राजग के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने गुरुवार (20 जुलाई) को राष्ट्रपति चुनाव में 65 फीसदी से अधिक वोट प्राप्त कर भारी बहुमत से जीत दर्ज की. वह देश के 14वें राष्ट्रपति होंगे. वह 25 जुलाई को शपथ ग्रहण करेंगे. राष्ट्रपति चुनाव के लिये निर्वाचन अधिकारी अनूप मिश्रा ने यहां संवाददाताओं को बताया कि कोविंद को 65.65 प्रतिशत मत मिले जबकि विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को 34.35 फीसदी वोट मिले. कोविंद ने करीब 31 प्रतिशत मतों के अंतर से मीरा कुमार को पराजित किया.

राष्ट्रपति चुनाव का परिणाम आने के तत्काल बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘श्री रामनाथ कोविंद जी को भारत का राष्ट्रपति निर्वाचित होने पर बधाई. उन्हें फलदायक और प्रेरणादायक कार्यकाल के लिये शुभकामनाएं.’ 

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘सांसदों और विभिन्न दलों के बीच रामनाथ कोविंद को मिले व्यापक समर्थन से हर्षित हूं. मैं निर्वाचक मंडल के सदस्यों को धन्यवाद देता हूं.’

रामनाथ कोविंद की जीत पर प्रधानमंत्री ने उनके साथ की दो तस्वीर भी ट्विटर पर साझा की. एक साथ साझा की गई इन दोनों तस्वीरों में से एक तस्वीर 20 साल पहले की तस्वीर थी और एक तस्वीर वर्तमान की है. चुने हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के बारे में ट्वीट करते हुए पीएम मोदी ने लिखा कि चाहे 20 साल पहले की बात हो या आज की, उनके साथ हमेशा गर्व की अनुभूति हुई. 

प्रधानमंत्री ने मीरा कुमार को उनके अभियान के लिये बधाई दी और कहा कि यह हमारे लोकतांत्रिक मूल्यों और आदर्शो के अनुरूप रहा जिस पर हम सभी को गर्व है.

71 वर्षीय कोविंद दूसरे दलित नेता हैं जो इस शीर्ष संवैधानिक पद को सुशोभित करेंगे. कोविंद को 2930 मत प्राप्त हुए जिसका मूल्य 7,02,044 मत है. उनसे पूर्व के. आर नारायणन दलित समुदाय से देश के पहले राष्ट्रपति निर्वाचित हुए थे. कोविंद भाजपा के पहले सदस्य हैं जो राष्ट्रपति निर्वाचित हुए हैं. मीरा कुमार भी दलित समुदाय से आती हैं और उन्हें 1844 मत प्राप्त हुए जिसका मूल्य 3,67,314 है. कोविंद को 522 सांसदों के वोट मिले जिसका मूल्य 369576 है, जबकि कुमार को 225 सांसदों के मत प्राप्त हुए जिसका मूल्य 159300 है. राष्ट्रपति चुनाव के निर्वाचक मंडल में 4,896 मतदाता है जिसमें से 4,120 विधायक और 776 सांसद शामिल हैं. राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद को 702044 मत और विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को 367314 मत हासिल हुए हैं. रामनाथ कोविंद ने मीरा कुमार को 3.34 लाख मतों से हराया है.

Ram nath kovind PM modi fans
रामनाथ कोविंद की जीत के बाद बीजेपी समर्थकों ने मनाया जश्न (फोटोः पीटीआई) 

अपने जीत की घोषणा होने के बाद कोविंद ने संवाददाताओं से कहा कहा कि राष्ट्रपति पद पर मेरा निर्वाचन भारतीय लोकतंत्र की महानता का साक्ष्य है. मैंने कभी राष्ट्रपति बनने की आकांक्षा नहीं की थी. मेरी जीत ईमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्वाह करने वाले के लिए संदेश है.

अपने प्रतिद्वन्द्वी कोविंद को बधाई देते हुए मीरा कुमार ने कहा, ‘मैं श्री रामनाथ कोविंद जी को भारत का राष्ट्रपति बनने पर बधाई देती हूं. उनको मेरी शुभकमानाएं. यह उन पर जिम्मेदारी है कि इस चुनौतीपूर्ण समय में वह पूरी भावना से संविधान की सुरक्षा करें.’ उन्होंने कहा कि धर्मनिरपेक्षता, शोषितों और वंचितों के लिए उनकी लड़ाई जारी रहेगी.

किस राज्य से रामनाथ कोविंद और मीरा कुमार को कितने वोट मिले

राष्ट्रपति चुनाव में राज्यवार प्राप्त मतों के आंकड़ों के अनुसार, बिहार में कोविंद को 22490 और मीरा कुमार को 18867, छत्तीसगढ़ में कोविंद को 6708 एवं मीरा कुमार को 4515, झारखंड में कोविंद को 8976 एवं मीरा को 4576, आंध्र प्रदेश में रामनाथ कोविंद को 27189 और मीरा कुमार को शून्य मत प्राप्त हुए. इसी प्रकार अरुणाचल प्रदेश में कोविंद को 448 एवं मीरा कुमार को 24, असम में कोविंद को 10556 एवं मीरा कुमार को 4060, गोवा में कोविंद को 500 एवं मीरा को 220, गुजरात में कोविंद को 19404 एवं मीरा को 7203 तथा हरियाणा में कोविंद को 8176 एवं मीरा को 1792 मत प्राप्त हुए. हिमाचल प्रदेश में कोविंद को 1530 मत एवं मीरा को 1887 मत, जम्मू एवं कश्मीर में कोविंद को 4032 एवं मीरा को 2160 मत प्राप्त हुए.

रामनाथ कोविंद को 522 सांसदों का और मीरा कुमार को 225 सांसदों का समर्थन मिला, जबकि 21 सांसदों के मत रद्द हो गये हैं.

कर्नाटक में कोविंद को 56 वोट मिले जिसका मूल्य 7336 है, जबकि मीरा कुमार को 163 मत मिले जिसका मूल्य 21553 है. केरल में कोविंद को 1 मत और मीरा कुमार को 138 मत, मध्यप्रदेश में कोविंद को 171 मत जबकि मीरा कुमार को 57 मत तथा महराष्ट्र में कोविंद को 208 मत जबकि मीरा कुमार को 77, मणिपुर में कोविंद को 37 जबकि मीरा कुमार को 19, मेघालय में कोविंद को 8 जबकि मीरा कुमार को 41, मिजोरम में कोविंद को 6 मत जबकि मीरा कुमार को 31 मत, नगालैंड में कोविंद को 56 और मीरा कुमार को 1, ओडिशा में कोविंद को 127 और मीरा कुमार को 17, पंजाब में कोविंद को 18 और मीरा कुमार को 95 मत प्राप्त हुए.

इसी प्रकार से राजस्थान में कोविंद को 166 जबकि मीरा कुमार को 34, सिक्किम में कोविंद को 28 जबकि मीरा कुमार को 1, तमिलनाडु में कोविंद को 134 मत जबकि मीरा कुमार को 98, तेलंगाना में कोविंद को 97 और मीरा कुमार को 20, त्रिपुरा में कोविंद को 7 मत जबकि मीरा कुमार को 53 तथा उत्तराखंड में कोविंद को 59 जबकि मीरा कुमार को 11 मत प्राप्त हुए. उत्तरप्रदेश में कोविंद को 335 मत और मीरा कुमार को 65, पश्चिम बंगाल में कोविंद को 11 जबकि मीरा कुमार को 273 मत मिले जबकि दिल्ली में कोविंद को 6 मत जबकि मीरा कुमार को 55 मत प्राप्त हुए . पुडुचेरी में कोविंद को 10 और मीरा कुमार को 19 मत प्राप्त हुए .

राष्ट्रपति चुनाव में 77 मत अवैध घोषित किये गए जिसका मूल्य 20942 है.