पं बंगालः दीघा में शुरू हुआ 'Sea Food Festival', मछलियों की 180 प्रजातियों की प्रदर्शनी

पश्चिम बंगाल स्थित पूर्वी मिदनापुर के दीघा में 'Sea Food Festival' शुरू हुआ है. फेस्टिवल का उद्घाटन राज्य के पूर्व मंत्री किरणमय नंदा ने किया.

पं बंगालः दीघा में शुरू हुआ 'Sea Food Festival', मछलियों की 180 प्रजातियों की प्रदर्शनी
दीघा में सी फूड फेस्टिवल की शुरूआत की गई है.

मिदनापुरः पश्चिम बंगाल स्थित पूर्वी मिदनापुर के दीघा में 'Sea Food Festival' शुरू हुआ है. फेस्टिवल का उद्घाटन राज्य के पूर्व मंत्री किरणमय नंदा ने किया. बताया जाता है कि सी फूड फेस्टिवल सात दिनों तक चलेगा, जिसमें खाने वाले समुद्री जीवों का प्रदर्शन किया जाएगा. इनमें अलग-अलग तरह की मछलियों का प्रदर्शन किया जाएगा.

सात दिनों तक चलने वाले इस सी फूड फेस्टिवल में समुद्री मछलियों की प्रदर्शनी की जाएगी. अलग अलग तरह के समुद्री मछलियों की अनेक प्रजाति इस फेस्टिवल रखी जाएगी. सी फूड फेस्टिवल का पर्यटक भी इसका भरपूर आनंद ले रहे हैं. साथ ही यहां तरह-तरह की मछिलयों को खाने का मौका मिल रहा है.

दीघा जिसे पर्यटकों का गढ़ माना जाता है वहां पर सीजन न होने के बावजूद भी सैलानियों की भीड़ जमा हो गई है. समुद्री तट पर सी फूड फेस्टिवल में लोगों की भीड़ देखकर यह साफ है कि पर्यटक इससे काफी खुश है. और इस फेस्टिवल का मजा ले रहे हैं. 

पर्यटक लाइन से खड़े हो कर विभिन्न प्रकार के व्यंजनों का लुत्फ़ उठा रहे हैं. साथ ही लोग सी फूट की खरीदारी भी कर रहे हैं.

सी फूड फेस्टिवल में मछलियों के 180 प्रजातियों को प्रदर्शित किया गया है. इस मौके पर किरणमय नंदा ने कहा कि मछुआरे विदेशी मुद्रा ला रहे हैं, बेरोजगारों को रोजगार प्रदान करते हैं, जिसके बावजूद केंद्र में इनके लिए कोई सकारात्मक भूमिका की गई है. मछुआरों के पास कोई व्यवस्था प्रदान नहीं की जाती है.

देश में मछुआरे विदेशी मुद्रा ला रहे हैं. लेकिन केंद्र सरकार उन्हें नकार रही है. मछुआरों को किसी भी तरह की सब्सिडी नहीं दी जा रही है. डीजल पर पहले सब्सिडी भी दी जाती थी लेकिन उसे भी बंद कर दिया गया है.