श्रीनगर: शहीद औरंगजेब के अपहरण और हत्या को लेकर तीन सैनिकों से पूछताछ

सूत्रों ने बताया कि तीन सैनिकों से पूछताछ इस संदेह को लेकर की जा रही है कि उन्होंने कहीं जानबूझ कर या अनजाने में औरंगजेब की गतिविधियों के बारे में सूचना लीक तो नहीं की. 

श्रीनगर: शहीद औरंगजेब के अपहरण और हत्या को लेकर तीन सैनिकों से पूछताछ
आंतकियों ने सेना के बहादुर जवान औरंगजेब की हत्या करने से पहले वीडियो बनाया था. (फाइल फोटो)

श्रीनगर: दक्षिण कश्मीर में पिछले साल आतंकवादियों द्वारा मारे गए सैनिक औरंगजेब की गतिविधि की सूचना देने में शामिल होने के संदेह में तीन सैनिकों से पूछताछ की जा रही है. सेना के सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि तीन सैनिकों से पूछताछ इस संदेह को लेकर की जा रही है कि उन्होंने कहीं जानबूझ कर या अनजाने में औरंगजेब की गतिविधियों के बारे में सूचना लीक तो नहीं की. 

हालांकि, उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया कि जिन सैनिकों से पूछताछ की जा रही है उन्हें अब तक न तो हिरासत में लिया गया है, न ही गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है, वहीं सेना हरसंभव सहयोग मुहैया करा रही है ताकि औरंगजेब की हत्या में शामिल लोगों को कानून के हवाले किया जा सके. 

 

सूत्रों ने बताया कि पूछताछ के घेरे में आए सैनिकों में से एक तौसीफ वानी का भाई है, जिसे शादीमार्ग शिविर में सेना के एक अधिकारी ने कथित तौर पर प्रताड़ित किया था. इसी शिविर में औरंगजेब की तैनाती थी. शहीद औरंगजेब का एक वीडियो सोशल मीडिया पर भी दिखा था. आतंकियों ने औरंगजब की हत्या करने से पहले उसका एक वीडियो बनाया था, जिसमें उससे उस एनकाउंटर से जुड़ी जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रहे थे, जिसका वह हिस्सा थे. बता दें कि औरंगजेब उस एनकाउंटर अभियान का हिस्सा थे, जिसमें आतंकी समीर टाइगर को मारा गया था और उस ऑपरेशन को अंजाम दिया था.

पिछले साल ईद के मौके पर 14 जून 2018 को छुट्टी पर जा रहे औरंगजेब को अगवा कर लिया गया था और बाद में सिर एवं गर्दन पर गोली मार कर हत्या कर दी गई थी.