महाराष्ट्र में परिवारवाद: उद्धव ठाकरे के बेटे बनेंगे मंत्री, शरद पवार के भतीजे होंगे डिप्टी सीएम

कांग्रेस के कोटे से 10 और एनसीपी के कोटे से 13 और शिवसेना के कोटे से 13 मंत्री बनाए जा सकते हैं. 

महाराष्ट्र में परिवारवाद: उद्धव ठाकरे के बेटे बनेंगे मंत्री, शरद पवार के भतीजे होंगे डिप्टी सीएम
फाइल फोटो...

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में आज मंत्रिमंडल का विस्तार होना है. महा विकास आघाडी की सरकार के पहले कैबिनेट विस्तार में तीनों ही दलों से कुल 36 मंत्री बनाए जा सकते हैं. इनमें कांग्रेस के कोटे से 10 और एनसीपी के कोटे से 13 और शिवसेना के कोटे से 13 मंत्री बनाए जा सकते हैं. आज होने वाले शपथ ग्रहण में 26 कैबिनेट, और 10 राज्यमंत्री शपथ लेंगे. आज होने वाले शपथ ग्रहण में परिवारवाद की झलक साफ दिखाई देगी. एनसीपी प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजित पवार डिप्टी सीएम पद की शपथ लेंगे.

वहीं उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे भी आज मंत्री पद की शपथ लेंगे. पूर्व सीएम विलासराव देशमुख के बेटे अमित विलासराव देशमुख भी आज मंत्रीपद की शपथ लेंगे. आज शपथ लेने वाले मंत्रियों में 3 निर्दलीय विधायक भी हैं, जिन्होंने शिवसेना को पहले से समर्थन किया था, इस बार उन्हें शिवसेना के कोटे से मंत्री बनाया है.

शिवसेना से इन नेताओं को मिल सकता है मंत्री पद

1) गुलाबराव पाटील 
2) संजय राठौड़
3) दादा भुसे
4) अनिल परब
5) शंभूराजे देसाई
6) उदय सामंत
7) बच्चू कडू (प्रहार पार्टी)
8) अब्दूल सत्तार
9) संदिपान भुमरे
10) राजेंद्र पाटील-येड्रावकर (निर्दलीय)
11) शंकरराव गडाख (निर्दलीय विधायक)

शिवसेना ने इस बार इन दिग्गजो मंत्री रह चुके लोगो को चांस नही दिया.

1) दिवाकर रावते
2) रामदास कदम
3) तानाजी सावंत
4) रविंद्र वायकर
5) दिपक केसरकर

आज होने वाले कैबिनेट विस्तार में सबसे ज्यादा निगाहें एनसीपी नेता अजित पवार (Ajit Pawar) पर रहेंगी. एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा है, 'शिवसेना को हमने नाम दे दिये हैं, साथ ही कैबिनेट पर अपनी अपनी राय भी सरकार को दे दी है. हमने महाराष्ट्र कनार्टक सीमा विवाद पर कहा कि जब तब ये मामला सुप्रीम कोर्ट में है, तब तक कुछ नही करना चाहिए.'

कांग्रेस के जो 10 विधायक आज मंत्री बनेंगे उनमें 8 कैबिनेट और 2 राज्यमंत्री पद के लिए शपथ लेंगे. इनमें अशोक चव्हाण (कैबिनेट), अमित देशमुख (कैबिनेट), असलम शेख (कैबिनेट), यशोमति ठाकुर (कैबिनेट), वर्षा गायकवाड़ (कैबिनेट), सुनील केदार (कैबिनेट), केसी पाडवी (कैबिनेट), विजय वडेट्टीवार (कैबिनेट), विश्वजीत कदम (राज्य मंत्री), सतेज पाटिल (राज्य मंत्री)

वहीं एनसीपी कोटे से अजित पवार, दिलीप वलसे-पाटील, हसन मुश्रीफ, राजेश टोपे, अनिल देशमुख, राजेंद्र शिंगणे, नवाब मलिक, जितेंद्र आव्हाड, धनंजय मुंडे, बालासाहेब पाटील, दत्ता भारणे, आदिती तटकरे मंत्री बनाए जा सकते हैं. 

बता दें शिवसेना ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव बीजेपी के साथ मिलकर लड़ा था और शिवसेना-बीजेपी गठबंधन को बहुमत भी मिला था, लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर शिवसेना और बीजेपी के बीच टकराव पैदा हो गया था. उसके बाद शिव सेना ने कांग्रेस- एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बना ली और और उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने.