close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बारां: बारिश ने बढ़ाई आम लोगों समेत किसानों की मुसीबत, 1 महीने से कई रास्ते हैं बंद

उफान पर चल रहे नदी नाले लोगों की परेशानी बढ़ा रहे हैं. आवागमन बाधित है तो निचले इलाके में जलभराव से भी लोग जूझ रहे हैं. जानलेवा बारिश लोगों पर मुसीबत बन के टूटी है.

बारां: बारिश ने बढ़ाई आम लोगों समेत किसानों की मुसीबत, 1 महीने से कई रास्ते हैं बंद
मौसम विभाग के अलर्ट लोगों की चिंताएं बढ़ाने लगे हैं.

राम प्रसाद मेहता, बारां: मॉनसूनी बारिश ने बारां जिले में लोगों की मुसीबतें बढ़ा दी हैं. मध्यप्रदेश में लगातार हो रही बरसात के कारण नदी नाले उफान पर हैं. कई रास्ते एक महीने से बंद पड़े हुए हैं, तो कई जगहों पर पुलिया टूटने की वजह से भी लोगों का आवागमन बाधित है. 

बारां जिले में पार्वती, परवन नदियों में उफान की वजह से एमपी को जोड़ने वाले कई मार्ग अवरूद्ध हैं. पार्वती नदी में उफान के चलते छबड़ा से गुना, फतेहगढ़ मार्ग बंद हैं. तो छीपाबड़ौद से इकलेरा मार्ग भी प्रभावित है. अटरू क्षेत्र के कई इलाके टापू बन गए हैं. पार्वती नदी में दैगनी पुलिया पर पानी आने के कारण भी लोगों को आवाजाही में दिक्कत हो रही है. इधर मांगरोल से रामगढ़ मार्ग भी पिछले कई दिनों से बंद पडा है.

उफान पर चल रहे नदी नाले लोगों की परेशानी बढ़ा रहे हैं. आवागमन बाधित है तो निचले इलाके में जलभराव से भी लोग जूझ रहे हैं. जानलेवा बारिश लोगों पर मुसीबत बन के टूटी है. जैपला की पुलिया टूटी होने के कारण लोगों को भारी परेशानी हो रही है. चाहे पैदल हों या बाइक सवार पुलिया से गुजरते हुए दूसरे गांव तक जाने में अपनी जान जोखिम में डालते हुए यहां साफ देखे जा सकते हैं. 

मौसम विभाग के अलर्ट लोगों की चिंताएं बढ़ाने लगे हैं. नदियों में उफान, पानी में डूबी पुलिया, जान जोखिम में डालकर रास्ते पार करते हुए लोग, जलभराव से बढ़ी दिक्कतें इन दिनों बारां जिले की आम सी तस्वीर बन चुकी हैं. जिला प्रशासन लगातार व्यवस्थाओं में लगा हुआ है. लोगों से भी अलर्ट रहने की अपील की जा रही है.