close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

TDP सांसदों के BJP में जाने पर बोलीं मायावती- ‘पहले माल्या थे, अब दूध के धुले’

टीडीपी के छह राज्यसभा सदस्यों में से चार गुरुवार को बीजेपी में शामिल हो गए.

TDP सांसदों के BJP में जाने पर बोलीं मायावती- ‘पहले माल्या थे, अब दूध के धुले’
बीएसपी चीफ मायावती (फाइल फोटो)

लखनऊ: तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के चार राज्यसभा सदस्यों के बीजेपी में शामिल होने पर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) प्रमुख मायावती ने शुक्रवार को बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि इनमें से दो को आंध्र का माल्या कहा जाता है लेकिन अब वह दूध के धुले हो गए हैं.

मायावती ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा कि 'माननीय राष्ट्रपति सरकार की तरफ से कल देश को अनेकों प्रकार के आश्वासन दे रहे थे उसी दिन बीजेपी ने टीडीपी के चार सांसदों को तोड़ लिया. उनमें से दो को बीजेपी ‘आंध्र का माल्या’ कहती है पर अब वे बीजेपी में आकर दूध के धुले हैं. स्पष्ट है बीजेपी ब्राण्ड ऑफ पॉलिटिक्स में सब जायज है कुछ गलत नहीं .'

Everything is fair in BJP brand of politics: Mayawati takes dig at TDP MPs defection

गौरतलब है कि टीडीपी के छह राज्यसभा सदस्यों में से चार गुरुवार को बीजेपी में शामिल हो गए. उन्होंने टीडीपी संसदीय दल (राज्यसभा में) का बीजेपी में विलय करने का प्रस्ताव उच्च सदन के सभापति एम वेंकैया नायडू को सौंपा था. इस तरह, राज्यसभा में बीजेपी की स्थिति मजबूत होती दिख रही है.

टीडीपी के राज्यसभा सदस्य वाईएस चौधरी के नेतृत्व में पार्टी के चार सदस्यों (उच्च सदन के) ने इस सिलसिले में एक प्रस्ताव पारित किया. इसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दी. चौधरी लंबे समय से टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू के विश्वस्त सहयोगी माने जाते थे.

सूत्रों के अनुसार राज्यसभा में टीडीपी के चार सदस्यों- वाई एस चौधरी, सी एम रमेश, जी मोहन राव, और टी जी वेंकटेश-ने अपने धड़े का बीजेपी में विलय करने के अनुरोध का प्रस्ताव नायडू को सौंपा है.