श्रीनगर: बर्फ से बेहाल गांव, न पीने को पानी न चलने को सड़क, बिजली भी गुल!

गांवों की महिलाओं को चार-पांच किलोमीटर दूर से पानी भर के लाना पड़ता है.

श्रीनगर: बर्फ से बेहाल गांव, न पीने को पानी न चलने को सड़क, बिजली भी गुल!

खालिद हुसैन, श्रीनगर: श्रीनगर के पास बसे फकीर गुजरी गांव में बर्फबारी के बाद से जीवन बेहाल है. श्रीनगर से 30 किलोमीटर दूर बसा यह गांव जबरवन पहाड़ी में बसा एक गांव है. करीब 2000 परिवारों पर बसा यह गांव श्रीनगर जिले में शामिल है. लेकिन यहां का हाल किसी दूर-दराज के गांवों जैसा है. जहां ना तो सरकार की ही नजर पहुंची है और न ही अधिकारियों के कदम बर्फबारी के दौरान पड़े हैं. यह है श्रीनगर से 25 किलोमीटर दूर बसा फकीर गुजरी गांव. श्रीनगर के पास होते हुए भी यह गांव श्रीनगर से दूर है.

बर्फबारी के चलते यहां ना सड़क संपर्क है और ना ही बिजली-पानी की सुविधा है. पानी की पाइप लाइन जम जाने से लोगों के घरों में तक पानी नहीं पहुंचता है. सरकार की तरफ से कोई पानी टैंकर सर्विस भी नहीं है. गांवों की महिलाओं को चार-पांच किलोमीटर दूर से पानी भर के लाना पड़ता है. गांवों की सड़क की हालत खराब है.

रास्तों पर बर्फ जमने की वजह से सड़क का रास्ता एकदम बंद होता है. सड़क पर बर्फ के जमा होने पर फिसलन होती है जिससे लोगों को सफर करने में बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता है. सड़क ना होने के चलते लोगों को खाने पीने का सामान और ज़रूरी चीज़ लाने के लिए कई किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है, और अगर कोई बीमार हुआ तो अस्पताल तक ले जाने में बहुत परेशानी होती है.

वहीं दूसरी तरफ मौसम विभाग के निर्देशक सोनम लोटस का कहना है कि,  हमने पहले ही कहा था कि मौसम खराब रहेगा और बर्फ जमने की संभावना बढ़ सकती है. कश्मीर में दो तीन इंच से एक फीट तक बर्फ होने की संभावना है तो पहाड़ी इलाकों में तो बर्फ की अधिकता बढ़ सकती है. पहाड़ी इलाकों में हिमस्खलन की सम्भावना है.