VIDEO: गिर में दिखा अद्भुत नजारा, तेंदुए के शावक को पाल रही है शेरनी

 10 दिन पहले ही गिर जंगल के नजदीक अमरेली के पास तीन शेरों की ट्रेन के नीचे कटकर मौत हो गई थी. 

VIDEO: गिर में दिखा अद्भुत नजारा, तेंदुए के शावक को पाल रही है शेरनी
शेरनी के दो शावक भी दिनभर तेंदुए के शावक के साथ ही रहते हैं.

जूनागढ़: बिल्ली की सबसे बड़ी प्रजातियों में शामिल शेर, बाघ, तेंदुआ आदि की आपस में दुश्मनी जगजाहिर है. लेकिन, 'मां की ममता' एक ऐसा भाव है जिसके आगे सारे भाव बौने साबित हो जाते हैं. दरअसल, गुजरात में गिर के जंगलों में ऐसा ही एक अद्भुत नजारा सामने आया है. यहां एक तेंदुए के शावक पर एक शेरनी अपनी ममता बरसा रही है. बताया जा रहा है कि यह शेरनी बीते एक हफ्ते से इस शावक को पाल रही है. प्राप्त जानकारी के अनुसार, तेंदुए का यह शावक कुछ कारणों से अपने परिवार से अलग हो गया था. 

 

गिर में वन विभाग वेस्ट के डॉक्टर धीरज मित्तल ने बताया है कि तेंदुए के इस शावक का नाम मोगली है. शावक को पालने वाली शेरनी का नाम रक्षा है. उन्होंने बताया कि मेरा स्टाफ लगातार इन दोनों पर नजर बनाए हुए है. शेरनी अपने बच्चों की तरह ही तेंदुए के शावक को पाल रही है. उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि शेरनी के दो शावक भी दिनभर तेंदुए के शावक के साथ ही रहते हैं. तेंदुए का शावक शेरनी के शावकों के साथ ही खेलता है और शेरनी भी सभी शावकों के समान व्यवहार करती नजर आती है. 

उन्होंने बताया कि आमतौर पर शेर और तेंदुआ एक-दूसरे के दुश्मन माने जाते हैं लेकिन, शेरनी द्वारा तेंदुए के शावक को पालना एक बड़ी घटना है. ममता के आगे यह जानवर भी अपने व्यवहार के विपरीत आचरण कर रहा है. बता दें कि पूरे देश में एशियाटिक शेरों के लिए मशहूर गिर अभयारण्‍य इन दिनों शेरों की मौतों के कारण चर्चा में है. पिछले कुछ महीनों में यहां पर हुई शेर शेरनियों की मौत ने सभी के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी हैं. 10 दिन पहले ही गिर जंगल के नजदीक अमरेली के पास तीन शेरों की ट्रेन के नीचे कटकर मौत हो गई थी. इसके बाद अब इस दिशा में कदम उठाए जा रहे हैं.