close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जब विंग कमांडर ने वाघा सीमा पर रखा था पैर उसी समय महाराष्ट्र में गुंजी किलकारी, नाम रखा- अभिनंदन

आकाश के पिता मंगीलाल जैन ने संवाददाताओं को बताया कि परिवार ने बच्चे का नाम साहसी पायलट अभिनंदन के नाम पर रखने का फैसला किया. 

जब विंग कमांडर ने वाघा सीमा पर रखा था पैर उसी समय महाराष्ट्र में गुंजी किलकारी, नाम रखा- अभिनंदन
.(फाइल फोटो)

ठाणे: महाराष्ट्र में एक दंपति ने अपने नवजात बेटे का नाम अभिनंदन रखा है क्योंकि उसका जन्म करीब उसी समय हुआ जब वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान पाकिस्तान के कब्जे से छूटकर वाघा सीमा से भारत पहुंचे थे. वर्धमान ने 27 फरवरी को अपने मिग-21 बाइसन से पाकिस्तानी वायुसेना के विमान एफ-16 को मार गिराया था और बाद में उनका विमान भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. वर्धमान जब अपने विमान से उतरे थे तब वह नियंत्रण रेखा के पार पहुंच गये थे और उन्हें पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने गिरफ्तार कर लिया था. 

उन्हें एक मार्च की रात को रिहा किया गया था. करीब उसी समय कर्नाटक के कडप्पा के निवासी आकाश जैन की पत्नी मोनिका ने ठाणे जिले के भिवंडी में एक निजी अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया था. आकाश के पिता मंगीलाल जैन ने संवाददाताओं को बताया कि परिवार ने बच्चे का नाम साहसी पायलट अभिनंदन के नाम पर रखने का फैसला किया.

परिवार में सभी को उम्मीद है कि वह आगे चलकर अभिनंदन की तरह ही जीवन में शानदार करेगा.  मंगीलाल जैन ने बताया कि वैसे बच्चे के नामकरण का पारंपरिक अनुष्ठान बाद में किया जाएगा.