close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देवेंद्र फडणवीस के बयान से शिवसेना नाराज , BJP के साथ होने वाली मीटिंग की रद्द

देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि शिवसेना के साथ कभी 50-50 फॉर्मूले पर चर्चा नहीं की. 

देवेंद्र फडणवीस के बयान से शिवसेना नाराज , BJP के साथ होने वाली मीटिंग की रद्द
(फाइल फोटो)

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर शिवसेना-बीजेपी के बीच दरियां बढ़ती जा रही है. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के बयान से नाराज शिवसेना (Shiv Sena) ने आज शाम बीजेपी (BJP) से होने वाली मीटिंग से किनारा कर लिया है. 

सूत्रों का कहना है कि इस मीटिंग में शिवसेना की तरफ से संजय राउत और सभाष देसाई जाने वाले थे लेकिन अब कोई नहीं जाएगा. बता दें देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि शिवसेना के साथ कभी 50-50 फॉर्मूले पर चर्चा नहीं की. देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि मैं अगले पांच साल के लिए मुख्‍यमंत्री बनूंगा.

वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने देवेंद्र फडणवीस के बयान कहा, हमें लगता है कि सच की परिभाषा अब बदलनी पड़ेगी, 50-50 फॉर्मूले की बात अमित शाह के सामने हुई है. इस दौरान देवेंद्र जी भी साथ थे. 

संजय राउत ने कहा, यह तय हुआ था कि आज शाम 4 बजे से चर्चा शुरु होगी.  जब मुख्यमंत्री खुद कह रहे हैं तो 50-50 फॉर्मूले पर बात नहीं हुई तो फिर हम क्या बात करेंगे. किस आधार पर हम उनसे बात करेंगे. इसलिए उद्धव ठाकरे ने दोनों पार्टियों की तय मीटिंग को रदद् कर दिया है.

गौरतलब है कि देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री पद की बात हमने हमने कभी तय नहीं की थी. महाराष्ट्र में बीजेपी की अगुआई में ही सरकार बनेगी. मैं ही अगले पांच साल मुख्यमंत्री रहुंगा, इस पर मुझे कोई संदेह नहीं है. उन्‍होंने ये भी कहा कि मुखपत्र सामना में कही जाने वाली बातों का चर्चा के लिए कोई रोल नहीं होता. शिवसेना को कौन से विभाग दिए जायेंगे, ये अभी तय नहीं है. जब दोनों पार्टियों की चर्चा होगी, उसी समय इस पर फैसला होगा. 1995 का गठबंधन का फार्मूला, ऐसा कुछ तय नहीं है.