Jammu-Kashmir: घाटी में आतंकियों की गिनती का काम पूरा, अब नहीं बचेगा एक भी दहशतगर्द
topStories1hindi1465903

Jammu-Kashmir: घाटी में आतंकियों की गिनती का काम पूरा, अब नहीं बचेगा एक भी दहशतगर्द

Kashmir Terrorist List: सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े एक सूत्र के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) अब चीन के साथ साथ टर्की की पिस्टल और हथियार खरीद रही है. जिनमें से कुछ हथियारों की खेप सीमा पार से आतंकियों को भेजी गई है.

Jammu-Kashmir: घाटी में आतंकियों की गिनती का काम पूरा, अब नहीं बचेगा एक भी दहशतगर्द

Terrorist Count Jammu Kashmir: जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) में मौजूद आतंकियों के संपूर्ण सफाये के लिए भारतीय एजेंसियों ने कमर कस ली है. सुरक्षा एजेंसियों से ज़ी मीडिया को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक कश्मीर के किन इलाकों में कितने पाकिस्तानी और लोकल आतंकवादी एक्टिव हैं? इससे जुड़ी एक लिस्ट तैयार की गई है. खुफिया एजेंसियों की मदद से सेना (Army) और जम्मू-कश्मीर पुलिस अब इन आतंकियों के सफाये के लिए बड़े आपरेशन लांच करने की तैयारी में है. 

कश्मीर में 81 आतंकवादी

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कश्मीर के किस जिले में कितने आतंकी हैं और उनमें से कितने पाकिस्तानी आतंकी हैं उसकी भी जानकारी जुटा ली गई है. सूत्रों के मुताबिक घाटी में इस वक्त कुल 81 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें से 52 पाकिस्तानी हैं और 29 लोकल आतंकवादी हैं. सुरक्षा एजेंसियों से जड़े अधिकारियों के मुताबिक घाटी में बड़ी संख्या में मौजूद पाकिस्तानी आतंकी आतंकी संगठनों में लोकल युवाओं की भर्ती करने की साजिश में लगे रहते हैं. साथ ही पाकिस्तान की आईएसआई के इशारे पर वो सुरक्षा बलों के साथ -साथ लोकल लोगों पर हमले कराते हैं जिससे कश्मीर में खौफ का माहौल बनाया जा सके. 

सेना ने खोली टेररिस्ट फाइल

ऐसे में जरुरी ये है कि सबसे पहले पाकिस्तानी आतंकियों के खिलाफ कारवाई की जाये. सुरक्षा एजेंसियों से जो एक्टिव आतंकियों की लिस्ट तैयार की है उसके मुताबिक कुपवाड़ा में कुल 7 आतंकी हैं जिनमें सभी पाकिस्तानी हैं. इसी तरह बारामूला में 7 आतंकी एक्टिव हैं,जिनमें 6 पाकिस्तानी और एक लोकल है. सोपोर में 5 आतंकी एक्टिव हैं,जिनमें 3 पाकिस्तानी और दो लोकल है. बडगाम में 3 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें 2 पाकिस्तानी और एक लोकल है,  शोपियां में 12 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें 5पाकिस्तानी और 7 लोकल है,  कुलगाम में 15 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें 5 पाकिस्तानी और 10 लोकल है, बांदीपुरा में 7 आतंकी एक्टिव हैं जो सभी पाकिस्तानी हैं,  श्रीनगर में 4 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें 3 पाकिस्तानी और एक लोकल है,  पुलवामा में 8 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें 5 पाकिस्तानी और 3 लोकल है,  अवंतीपुरा में 6 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें सभी पाकिस्तानी  है, अनंतनागम में भी 3 आतंकी एक्टिव हैं जिनमें 2 पाकिस्तानी और एक लोकल है और हंदवाड़ा में 4 पाकिस्तानी आतंकी मौजूद हैं.

आतंकियों में बौखलाहट और डर

देखा जाये तो जम्मू-कश्मीर में लगातार अमन चैन से आतंकी संगठन बौखलाये हुए हैं और यही वजह है कि वो लगातार लोकल लोगों के साथ-साथ बाहरी लोगों पर भी हमले कर रहे हैं. इस साल आतंकियों के ऐसे ही हमले में अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं सेना और पुलिस के कुल 26 जवान ऐसे आतंकी हमलें में इस साल शहीद हो चुके हैं.

आतंकियों के पास तुर्की के हथियार

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों पर आतंकी हमले के साथ-साथ आम लोगों पर हमले के लिए अब आतंकियों को तुर्की मेड हथियार दिए जा रहे है. सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI बड़ी संख्या में तुर्की मेड पिस्टल के साथ साथ गोला बारूद की सप्लाई जम्मू कश्मीर में मौजूद आंतकियो को सप्लाई कर रही है. कश्मीर में आतंकी हमला करने के लिये तुर्की की Canik- TP9 पिस्टल का इस्तेमाल हो रहा है.

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई भी एक्टिव

सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े सूत्र के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई खुद चीन के साथ-साथ टर्की के हथियार खरीद रही है. जिनमें से कुछ हथियारों की खेप सीमा पार से आतंकियों तक पहुंचाई जा चुकी हैं. इसी साल अबतक अलग-अलग आतंकी मुठभेड़ यानी एनकाउंटर के दौरान 20 से ज्यादा टर्की मेड पिस्टल और सैकड़ों राउंड एमुनेशन बरामद हो चुका है.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news