कोर्ट में पेशी के बाद हत्यारोपी होटल में कर रहा था अय्याशी, तीन पुलिसकर्मी हुए निलंबित

देवरिया में अदालत में पेश करने के बाद वापसी में हत्यारोपी और सिपाही गोरखपुर के होटल में गोरखपुर पुलिस के हाथों अय्याशी करते पकड़े गए.

कोर्ट में पेशी के बाद हत्यारोपी होटल में कर रहा था अय्याशी, तीन पुलिसकर्मी हुए निलंबित
पुलिस ने सिपाही आनंद सिंह, अभय कुमार सिंह और अमन कुमार को गोरखपुर के स्टेशन के पास से होटल हॉलिडे में अय्याशी करते हुए गिरफ्तार किया.

देवरिया: हरदोई के जिला कारागार में देवरिया जिले का कुख्यात अपराधी डब्ल्यू सिंह उर्फ़ कामेश्वर पेशी के दौरान गोरखपुर में अय्याशी करते हुए पाया गया. पुलिस अभिरक्षा में पेशी कराने देवरिया ले जाने के बाद गोरखपुर में आरोपी डब्ल्यू सिंह और तीन पुलिसकर्मी होटल में अय्याशी करते पकड़े गए. इस मामले में तीनों सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है. दरअसल, पूर्वांचल के देवरिया जिले के कुख्यात अपराधी डब्ल्यू उर्फ़ कामेश्वर की मंगलवार को देवरिया की अदालत में हत्या के एक मामले में पेशी थी. हरदोई जिले से पुलिस अभिरक्षा में उसे देवरिया भेजा गया था.

पुलिस अभिरक्षा में उसे 3 सिपाही यहां से लेकर देवरिया गए थे. देवरिया में अदालत में पेश करने के बाद वापसी में हत्यारोपी और सिपाही गोरखपुर के होटल में गोरखपुर पुलिस के हाथों अय्याशी करते पकड़े जाने के बाद एसपी ने तीनों सिपाहियों को निलंबित किया है. बताया जा रहा है कि गोरखपुर के कैंट थाना पुलिस ने हरदोई पुलिस को सूचना दी कि हरदोई के जिला कारागार में बंद देवरिया जिले का कुख्यात अपराधी डब्ल्यू सिंह और उसके साथ पुलिस अभिरक्षा में गए तीन सिपाही होटल में अय्याशी करते पकड़े गए हैं.

पुलिस ने सिपाही आनंद सिंह, अभय कुमार सिंह और अमन कुमार को गोरखपुर के स्टेशन के पास से होटल हॉलिडे में अय्याशी करते हुए गिरफ्तार किया. पुलिस के मुताबिक तीनों सोमवार रात डब्ल्यू सिंह और कामेश्वर को लेकर देवरिया अदालत में पेशी के लिए गए थे. जहां पर पेशी कराने के बाद लौटते समय यह सभी हरदोई आने की बजाय गोरखपुर के स्टेशन के पास एक होटल हॉलिडे में पहुंच गए. वहां पर गोरखपुर पुलिस ने एक सूचना के आधार पर छापा डालकर इन सभी को रंगे हाथों पकड़ा. गोरखपुर पुलिस की रिपोर्ट पर एसपी ने तीनों पुलिस के सिपाहियों को निलंबित करके पूरे मामले में कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.