पूर्व पालिक चेयरमैन सलाखों के पीछे, बिजनौर में बकरीद से पहले बवाल की रच रहा था साजिश

पूर्व नगर पालिका चेयरमैन जावेद सिद्दीकी की गिरफ्तारी सोमवार को अलीगढ़ से हुई, जिसके बाद आज बिजनौर में कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेशी हुई और जेल भेज दिया गया.  

पूर्व पालिक चेयरमैन सलाखों के पीछे, बिजनौर में बकरीद से पहले बवाल की रच रहा था साजिश
सांकेतिक तस्वीर.

वसीम अख्तर/बिजनौर: उत्तर प्रदेश के बिजनौर में बकरीद से पहले बवाल की साजिश रचने के आरोप में पूर्व नगर पालिका चेयरमैन की गिरफ्तारी हुई है. साथ ही पूछताछ में पता चला है कि जावेद सिद्दीकी नागरिकता संशोधन कानून(CAA) के विरोध में हुए दंगों का भी आरोपी है. पूर्व नगर पालिका चेयरमैन जावेद सिद्दीकी की गिरफ्तारी सोमवार को अलीगढ़ से हुई, जिसके बाद आज बिजनौर में कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेशी हुई और जेल भेज दिया गया.

ये भी पढ़ें: 24 वर्ष पहले गायब हुआ खुशनूद अचानक लौटा घर, 6 पर हुआ था अपहरण का मुकदमा

पुलिस के अनुसार सूचना मिली थी कि नई बस्ती निवासी पूर्व चेयरमैन जावेद सिद्दीकी अलीगढ़ के सैयद नगर में रहकर बिजनौर में ईद-उल-अजहा पर बवाल कराने की साजिश रच रहा है, जिसके बाद सोमवार रात अलीगढ़ में बहन के घर से जावेद को हिरासत में ले लिया गया. आरोपी के पास से एक 32 बोर की अवैध पिस्टल, 162 कारतूस और भड़काऊ पोस्टर बरामद हुए हैं. 

पुलिस अधीक्षक संजीव त्यागी ने बताया कि जावेद ने पूछताछ में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हुए दंगों में भी अपनी भूमिका का इकबाल किया है. आरोपी अब ईद-उल-अजहा से पूर्व बवाल की भी साजिश रच रहा था. उसने पीएफआई और कुछ कट्टरपंथी लोगों के माध्यम से पर्चे भी बंटवाए.

WATCH LIVE TV: