आगरा: सवालों के घेरे में ड्रग डिपार्टमेंट, GST विभाग भेजेगा नोटिस

 आगरा के ड्रग डिपार्टमेंट ने अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की और करोड़ों रुपए की नकली और प्रतिबंधित दवाइयां बरामद की लेकिन इसके बारें में जीएसटी विभाग को कोई जानकारी नहीं दी

आगरा: सवालों के घेरे में ड्रग डिपार्टमेंट, GST विभाग भेजेगा नोटिस
आगरा: आगरा में जीएसटी (GST) विभाग ड्रग (Drugs) डिपार्टमेंट को नोटिस जारी करेगा. दरअसल आगरा के ड्रग डिपार्टमेंट ने अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की और करोड़ों रुपए की नकली और प्रतिबंधित दवाइयां बरामद की लेकिन इसके बारें में जीएसटी विभाग को कोई जानकारी नहीं दी. जिसकी वजह से जीएसटी विभाग नाराज है.
 
आगरा में जीएसटी के एडिशनल कमिश्नर राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि हम ड्रग डिपार्टमेंट को नोटिस जारी करेंगे क्योंकि उन्होंने आगरा में कई जगहों पर छापेमारी की और करोड़ों रूपए की दवाइयां जब्त की. लेकिन उन्होंने अब तक हमें छापेमारी में बरामद की गईं दवाइयों को लेकर कोई जानकारी नहीं दी है,  जिसकी वजह से हम ड्रग कारोबारियों द्वारा की गई टैक्स चोरी का खुलासा नहीं कर पा रहे हैं.
 
आगरा में ड्रग डिपार्टमेंट को जुलाई से अब तक छापेमारी में कई बड़ी सफलताएं मिली हैं. दो बड़ी कार्रवाई में ड्रग डिपार्टमेंट ने आगरा में शास्त्री पुरम इलाके के एक मकान से जहां 1 करोड़ रुपए से ऊपर की दवाएं बरामद कीं वहीं दूसरी तरफ एतमाद्दौला क्षेत्र में मालवा ट्रांसपोर्ट कंपनी से 21 लाख रुपए की नशीली दवाएं और 63 लाख रुपए के सिरप बरामद किए. लेकिन इन छापों में बरामद हुई दवाइयों की जानकारी ड्रग डिपार्टमेंट ने जीएसटी विभाग को नहीं दी.
 
दरअसल ड्रग डिपार्टमेंट को जीएसटी विभाग को छापों में बरामद माल और उसकी कीमतों की जानकारी देना जरूरी है. ये जानकारियां जीएसटी विभाग को  टैक्स चोरी करने वाले कारोबारियों का पता लगाने में मदद करती हैं. इसके अलावा जीएसटी विभाग आगरा में बल्क में दवाइयां रखने वालों और ट्रांसपोर्टरों पर कड़ी नजर रख रहा है.