सुप्रीम कोर्ट पहुंचे आगरा मेंटल हॉस्पिटल के अधिकारी, की ये गुजारिश

आगरा मेंटल हॉस्पिटल के अधिकारियों का कहना है कि अस्पताल परिसर में लगे कई पेड़ सूख गए हैं जिनसे यहां के मरीजों को डर लगता है. 

सुप्रीम कोर्ट पहुंचे आगरा मेंटल हॉस्पिटल के अधिकारी, की ये गुजारिश
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: आगरा मेंटल हॉस्पिटल (Agra Mental Hospital) परिसर में स्थित पेड़ों से मरीजों की स्वास्थ्य को खतरा है. अपनी इस समस्या को लेकर मेंटल अस्पताल के अधिकारियों ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का दरवाजा खटखटाया है. बुधवार (20 नवंबर) को आगरा मेंटर हॉस्पिटल के अधिकारियों ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर अस्पताल परिसर में लगे पेड़ों को काटने की अनुमति मांगी है. 

दरअसल, अधिकारियों का कहना है कि अस्पताल परिसर में लगे कई पेड़ सूख गए हैं जिनसे यहां के मरीजों को डर लगता है. उन्होंने कहा कि पेड़ों से दिमाग के मरीजों की हालत बिगड़ रही है. इससे मरीजों के साथ-साथ डॉक्टरों की भी परेशानी बढ़ गई है.

लाइव वीडियो देखें

अधिकारियों ने सुप्रीम कोर्ट से अस्पताल परिसर में लगे पेड़ों को कटवाने की अनुमति मांगी है. दरअसल, अधिकारी इसलिए भी अपनी गुजारिश लेकर कोर्ट पहुंचे हैं क्योंकि आगरा फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने इन पेड़ों को काटने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है. 

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा ताजमहल के आस-पास लगे पेड़ों को काटने पर रोक लगाया गया है. आगरा मेंटल हॉस्पिटल भी इसी एरिया के अंतर्गत आता है जिसके कारण फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने पेड़ों को काटने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था. अब अस्पताल के अधिकारियों ने कोर्ट के सामने अपनी परेशानी रखी है.