अखिलेश यादव ने NEET मेडिकल परीक्षा में पिछड़े वर्ग को आरक्षण देने की मांग की

अखिलेश ने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से इस विषय पर गम्भीरतापूर्वक विचार करने तथा पिछड़े वर्ग को उनके आरक्षण का हक दिलाने का निवेदन किया है. 

अखिलेश यादव ने NEET मेडिकल परीक्षा में पिछड़े वर्ग को आरक्षण देने की मांग की
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव ने शुक्रवार को केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर नीट की मेडिकल परीक्षा में पिछड़े वर्ग को आरक्षण का लाभ दिए जाने की मांग की.

सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने यहां बताया कि अखिलेश ने जावड़ेकर को लिखे पत्र में कहा है कि देश में एम.बी.बी.एस. की लगभग 25 हजार सीटों के लिए प्रतिवर्ष 'नेशनल इंट्रेंस इलिजीबिलिटी टेस्ट' (नीट) द्वारा परीक्षा का आयोजन किया जाता है.

उन्होंने पत्र में कहा कि इनमें से 15 प्रतिशत सीटें केन्द्रीय मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाती हैं. इन 15 प्रतिशत सीटों को दो हिस्सों में विभाजित किया जाता है. इन सीटों में, लगभग एक चौथाई सीटें केन्द्रीय मेडिकल कालेजों के लिए रहती हैं तथा शेष तीन चौथाई सीटें राज्य सरकार द्वारा पोषित मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाती हैं.

अखिलेश ने पत्र में कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा पोषित मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाने वाली एक चौथाई सीटों में तो पिछड़े वर्ग को आरक्षण मिल रहा है, लेकिनराज्य सरकार द्वारा पोषित मेडिकल कालेजों के लिए छोड़ी जाने वाली सीटों पर पिछड़े वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं मिल रहा है. इसकी वजह से हर साल करीब 700 अभ्यर्थी चयन से वंचित हो रहे हैं.

उन्होंने जावड़ेकर से इस विषय पर गम्भीरतापूर्वक विचार करने तथा पिछड़े वर्ग को उनके आरक्षण का हक दिलाने का निवेदन किया है.

(इनपुट - भाषा)