अखिलेश यादव बोले, 'नहीं भरूंगा NPR फॉर्म, BJP नहीं तय करेगी कि हम भारतीय हैं या नहीं'

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आज के युवाओं को रोजगार चाहिए ना कि एनपीआर.

अखिलेश यादव बोले, 'नहीं भरूंगा NPR फॉर्म, BJP नहीं तय करेगी कि हम भारतीय हैं या नहीं'
अखिलेश यादव ने कहा कि एनआरसी और एनपीआर हर गरीब और माइनॉरिटी के खिलाफ है.

लखनऊ: नागरिकता संशोधन कानून, राष्ट्रीय नागरिकता संशोधन और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के मुद्दे पर चल रही राजनीतिक बयानबाजी के बीच सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज भाजपा पर बड़ा हमला बोला.

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) एनपीआर (NPR) का बहिष्कार करेगी और बीजेपी तय नहीं करेगी कि हम भारतीय हैं या नहीं और इसलिए मैं एनपीआर फॉर्म नहीं भरूंगा. अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी लोग समाज को जोड़ते हैं और जिनसे लड़ाई है, वो समाज को तोड़ते हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि आज के युवाओं को रोजगार चाहिए ना कि एनपीआर. एनआरसी और एनपीआर हर गरीब और माइनॉरिटी के खिलाफ है. हमें पहले कांग्रेस ने नहीं गिना, अब बीजेपी भी नहीं गिन रही.

लखनऊ में सपा कार्यालय में छात्रसभा के जीते हुए नेताओं के स्वागत कार्यक्रम के दौरान अखिलेश यादव ने कहा की बीजेपी के लोगों ने नौजवानों के साथ मारपीट की. नौजवानों को पीटने वाले और एसओ को पीटने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई. वाराणसी में नौजवानों के साथ एसओ को भी पीटा, लेकिन न्याय नहीं मिला. उनकी पार्टी के लोग मुकदमों से नहीं डरते. इतना ही नहीं आज पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी बीजेपी बदलवा रही है, पीड़ितों से हमारे प्रदेश अध्यक्ष को भी नहीं मिलने दिया, बीजेपी सरकार क्यों चाहती है, हम पीड़ितों से चोरी छुपे मिलें, इस सरकार ने तो हिंसा की जांच कराई नहीं, लेकिन जब हमारी सरकार आएगी तो हम वीडियो के आधार पर जांच करायेंगे.

अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जब खुद पर लगे मुकदमे वापस ले रहे हैं, तो आपके मुकदमे सरकार आते ही वापस होंगे. समाजवादी कार्यकर्ताओं पर दर्ज हो रहे सब मुकदमे वापस होंगे. आप वाराणसी नहीं आज क्योटो से आए हैं. आप पासपोर्ट बनवा कर रखिए आपको वास्तविक क्योटो दिखाएंगे.

अखिलेश ने निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी ध्यान भटकाने के लिए सब काम कर रही है. सीएम योगी से इस वक्त 300 से ज्यादा विधायक नाराज हैं और इसलिए कुर्सी बचाने के लिए वो खेल खेल रहे हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि ये जो लाठी चला रहे हैं, इनको भी नहीं पता कि इनसे भी और पिता से भी सर्टिफिकेट मांगा जाएगा. लोकभवन भवन का नाम कितना भी बदल लें लेकिन अटल जी के बगल में सपा के नेता राम सरन दास की प्रतिमा लगेगी.

अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर आगे आरोप लगते हुए कहा की वो लोग गंगा मैया को साफ नहीं कर पाए. लेकिन, समाजवादी पार्टी जरूर साफ करके दिखाएगी. उन्होंने कहा कि जिसने गंगा मैया को धोखा दिया, उसे गंगा मैया ने माफ नहीं किया है. वो आपको शौचालय की तरफ ले जा रहे हैं. ऐसे में लोगों को तय करना है कि लोग शौचालय चाहते हैं या लैपटॉप.

ये भी देखें:  

अखिलेश यादव ने कहा कि नोटबंदी का इतिहास तो बनाया गया, अब इंटरनेट बंदी का भी इतिहास बना दिया. भाजपा में जो 2 बड़े पदों पर बैठे हैं, उन पर क्या क्या धाराएं लगी हैं, सभी को पता है. मुख्यमंत्री की भाषा ही अफसर बोल रहे हैं और बीजेपी सरकार प्रशासन के जरिए मुसलमानों पर अन्याय कर रही है.