CAA Protest: संभल में हिंसक प्रदर्शन, दो बसों में लगाई आग, पुलिस पर बरसाए पत्थर

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन होने के बाद प्रशासन ने पूरे सूबे में धारा 144 लागू कर दी है. इस दौरान प्रदेश में कहीं भी प्रदर्शन, जुलूस आदि की इजाजत नहीं है. 

CAA Protest: संभल में हिंसक प्रदर्शन, दो बसों में लगाई आग, पुलिस पर बरसाए पत्थर
यूपी के संभल में भीड़ ने हिंसक प्रदर्शन किया है.

संभल: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act- सीएए) के विरोध में देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन किया जा रहा है. इन सबके बीच यूपी के संभल में भीड़ ने हिंसक प्रदर्शन किया है. वहीं, भीड़ ने प्रदर्शन के दौरान दो बसों को आग लगा दी है. इसी के साथ अन्य गाड़ियों में भी तोड़-फोड़ की खबर सामने आई है. बताया जा रहा है कि उपद्रवी तत्वों ने प्रदर्शन के दौरान यूपी परिवहन की दो बसों को आग लगाकर फूंक दिया. बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों ने हिंसक रूप अपनाते हुए पुलिस पर पत्थरबाजी भी की है.

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन होने के बाद प्रशासन ने पूरे सूबे में धारा 144 लागू कर दी है. इस दौरान प्रदेश में कहीं भी प्रदर्शन, जुलूस आदि की इजाजत नहीं है. वहीं, उत्तर प्रदेश के DGP ओपी सिंह ने कहा कि अलीगढ़, मऊ, लखनऊ, प्रयागराज से गिरफ्तारियां हुई हैं. धारा 144 के उल्लंघन में 3 हजार से ज्यादा लोगों को नोटिस भेजे गए हैं. उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कोई भी अफवाह फैलाने की कोशिश न करे अगर ऐसा करते पाए गए तो कार्रवाई होगी. डीजीपी ने अपील करते हुए कहा कि माता-पिता अपने बच्चों को समझाएं कि किसी प्रदर्शन में हिस्सा न लें. अन्यथा उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई होगी.

वहीं, नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन और बंद की सियासत को विपक्षी पार्टियां का भी साथ मिल रहा है. नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ कांग्रेस भी विधानसभा में प्रदर्शन कर रही हैं. सीएए को लेकर सपा का प्रदर्शन भी जारी है. महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई  को लेकर सपा के कार्यकर्ता सड़क पर उतर गए हैं. लखनऊ के हजरतगंज स्थित आम्बेडकर प्रतिमा पर सपा के कार्यकर्ताओ ने प्रदर्शन किया. वहीं, पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है.