UP: लखनऊ के वीरगंज CJM कोर्ट परिसर में हुई बमबाजी केस का मुख्य आरोपी जीतू यादव गिरफ्तार

पुलिस घटना की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है और इसके आधार पर अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है. पुलिस के मुताबिक यह बमबाजी दशहत फैलाने के लिए की गई थी. पुलिस ने मौके से दो बम बरामद किए थे, जो जांच में धुआं फैलाने वाले सुतली बम निकले.

UP: लखनऊ के वीरगंज CJM कोर्ट परिसर में हुई बमबाजी केस का मुख्य आरोपी जीतू यादव गिरफ्तार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के वीरगंज स्थित जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर में 13 फरवरी को दिनदहाड़े हुए बमबाजी की घटना का मुख्य आरोपी जीतू यादव गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने लखनऊ बार एसोसिएशन के महामंत्री जीतू यादव को केजीएमयू से गिरफ्तार किया. वह यहां भर्ती थे.

पुलिस घटना की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है और इसके आधार पर अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है. पुलिस के मुताबिक यह बमबाजी दशहत फैलाने के लिए की गई थी. पुलिस ने मौके से दो बम बरामद किए थे, जो जांच में धुआं फैलाने वाले सुतली बम निकले.

आपको बता दें कि वीरगंज जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर के गेट नंबर तीन के पास गत 13 फरवरी को हमलावरों ने लखनऊ बार एसोसिएशन के संयुक्त सचिव संजीव लोधी को निशाना बनाकर बमबाजी की थी. पुलिस ने इस मामले में लखनऊ बार एसोसिएशन के महामंत्री जीतू यादव समेत 17 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. इस हमले में एक बम फटा था, जबकि बाकी दो नहीं फटे थे. इस घटना में संजीव लोधी समेत तीन वकीलों को हल्की चोटें आई थीं. 

संजीव लोधी ने बताया था कि उन्होंने कुछ न्यायिक अधिकारियों की उच्चाधिकारियों से शिकायत की थी. इसे लेकर लखनऊ बार एसोसिएशन के महामंत्री जीतू यादव, सुधीर यादव और अन्नू यादव उन्हें शिकायत वापस लेने की धमकी दे रहे थे. ये लोग उन न्यायिक अधिकारियों के करीबी हैं, जिनकी शिकायत संजीव लोधी ने की थी. इसी रंजिश में संजीव लोधी को निशाना बनाकर बम फेंका गया था.