एक लाख का इनामी गैंगस्टर लालू यादव पुलिस मुठभेड़ में ढेर, पंचायत चुनाव में थी सक्रिय दखलंदाजी

लालू यादव त्रिस्तरीय चुनाव में अपने गैंग के जरिये सक्रिय था. वह अपनी पत्नी को ब्लाक प्रमुख बनवाने के लिए उसे निर्विरोध बीडीसी बनवा चुका था. 

एक लाख का इनामी गैंगस्टर लालू यादव पुलिस मुठभेड़ में ढेर, पंचायत चुनाव में थी सक्रिय दखलंदाजी
सांकेतिक फोटो

मऊ: उत्तर प्रदेश के मऊ जनपद में आज सुबह-सुबह 1 लाख का इनामी बदमाश लालू यादव पुलिस मुठभेड़ में ढेर हो गया. इनामी बदमाश लालू यादव के ऊपर 100 के करीब मुकदमे दर्ज हैं. लालू यादव पर पूरे पूर्वांचल समेत कई राज्यों में आपराधिक मामले दर्ज हैं. मुड़भेड़ में इसका साथी विनोद यादव मौके से फरार हो गया.

यहां पर हुई मुठभेड़
ये मुठभेड़ रानीपुर थाना क्षेत्र के भंवरेपुर में हुई अल सुबह हुई. मुठभेड़ में लालू यादव मारा गया इसके ऊपर 80 से 85 आपराधिक मुक़दमे दर्ज हैं. मुखबिर से मिली सूचना के अनुसार होने वाले पंचायत चुनाव में लालू यादव की दखलअंदाजी काफी बढ़ी हुई थी. सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी किया तो इसका साथी और यह दोनों पुलिस पार्टी पर फायरिंग करने लगे. जवाबी कार्रवाई में बदमाश को भी गोली लगी और इलाज के लिए जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. मुड़भेड़ के दौरान पुलिस वैन पर गोली लगी और पुलिस की बुलेटप्रूफ जैकेट पर भी गोली लगी.

इन अदालतों में अब सिर्फ वर्चुअल मोड़ में होगी मुकदमों की सुनवाई, हाईकोर्ट ने जारी की नई गाइडलाइन

पंचायत चुनाव में लालू यादव की दखलअंदाजी
पुलिस ने अनुसार पंचायत चुनाव में लालू यादव की दखलंदाजी रहती है. लालू यादव त्रिस्तरीय चुनाव में अपने गैंग के जरिये सक्रिय था. वह अपनी पत्नी को ब्लाक प्रमुख बनवाने के लिए उसे निर्विरोध बीडीसी बनवा चुका था. इसके अलावा जौनपर में सरार्फा व्यवसायी से हुई दो करोड़ की लूट को अंजाम दिया था. सोनभद्र में कैश वैन से लूट में भी शामिल था लालू. पुर्वांचल में दुर्दांत अपराधियों की हिटलिस्ट में लालू यादव का नाम शामिल था. बताया जा रहा है कि दूसरे राज्यों में अपराधिक मुक़दमे दर्ज हैं. जिले के कोपागंज थाना क्षेत्र के दोड़ापुर गांव का रहने वाला दुर्दांत अपराधी लालू यादव पर एक लाख का इनाम था. 

साथी फरार, तलाश जारी
पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने बताया कि लालू यादव पुलिस मुठभेड़ में मारा गया है और इसका साथी अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार होने में कामयाब हो गया. हालांकि उसकी तलाश जारी है. 

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के लिए नहीं होगा इंटरव्यू, फटाफट ऐसे करें आवेदन

WATCH LIVE TV