गौतमबुद्धनगर: उपभोक्ताओं पर 300 करोड़ से ज्यादा बिल बकाया, अब बिजली विभाग लाया ये स्कीम

बिजली विभाग ने जिले के कमर्शियल और इंडस्ट्रियल उपभोक्ताओं को बिल जमा करने के लिए स्कीम भी लॉन्च की है. बिजली विभाग ने कहा है कि अगर कमर्शियल और इंडस्ट्रियल उपभोक्ता 30 जून तक बकाया बिल जमा कर देंगे तो उन्हें जुलाई महीने में फिक्स चार्ज से छूट दी जाएगी. 

गौतमबुद्धनगर: उपभोक्ताओं पर 300 करोड़ से ज्यादा बिल बकाया, अब बिजली विभाग लाया ये स्कीम
प्रतीकात्मक फोटो
गौतमबुद्ध नगर: कोरोना वायरस संक्रमण में लोगों के बिगड़ते बजट और लॉकडाउन में बंद पड़े काम काज का असर अब सरकारी विभागों में भी पड़ने लगा है. गौतमबुद्धनगर के बिजली विभाग को इसका खामियाजा कुछ यूं उठाना पड़ रहा है कि यहां उपभोक्ताओं पर बिजली विभाग का 300 करोड़ बकाया हो चुका है. जब कोरोना काल में लोगों की नौकरियां जा रही हैं और फैक्ट्रियां बंद पड़ी हैं, तो उपभोक्ताओं को भी बिल चुकाने में खासी दिक्कत आ रही है. 
 
बिजली विभाग ने वसूली के लिए कमर कसी 
गौतमबुद्धनगर के रेजिडेंशियल, इंडस्ट्रियल और कमर्शियल उपभोक्ताओं पर बिजली विभाग की 300 करोड़ से ज्यादा की देनदारी है. इस देनदारी की वसूली के लिए बिजली विभाग पूरी तरह से तैयार हो चुका है. उपभोक्ताओं को मैसेज और ई-मेल के जरिये बिल जमा करने का रिमाइंडर दिया जा रहा है. बिल जमा न करने की स्थिति में बिजली विभाग कनेक्शन काटने की कार्रवाई करेगा. 
 
 
बिजली विभाग लेकर आया है ये स्कीम 
बिजली विभाग ने जिले के कमर्शियल और इंडस्ट्रियल उपभोक्ताओं को बिल जमा करने के लिए स्कीम भी लॉन्च की है. बिजली विभाग ने कहा है कि अगर कमर्शियल और इंडस्ट्रियल उपभोक्ता 30 जून तक बकाया बिल जमा कर देंगे तो उन्हें जुलाई महीने में फिक्स चार्ज से छूट दी जाएगी. दरअसल कमर्शियल और इंडस्ट्रियल उपभोक्ताओं को फैक्ट्री और दफ्तर बंद होने के बाद भी लॉकडाउन के दौरान फिक्स चार्ज देना ही देना है. यही वजह है कि वे बिना मुनाफे के अपने खर्चों से परेशान होकर बिजली बिल देने में टाल मटोलकर रहे हैं.
 
WATCH LIVE TV