'यह सवर्णों का क्षेत्र है, यहां पर SC/ST का विरोध है, कृपया भाजपा के लिए वोट न मांगें '

संशोधित एस सी/एस टी एक्ट के विरोध में प्रतापगढ़ की बाजारों में सवर्ण दुकानदार लगा रहे हैं पोस्टर

'यह सवर्णों का क्षेत्र है, यहां पर SC/ST का विरोध है, कृपया भाजपा के लिए वोट न मांगें '
खास बात यह है कि अपनी दुकानों पर पोस्टर लगाने वाले लोग खुद को भाजपा समर्थक भी बताते हैं

सुनील यादव, प्रतापगढ़ः  'यह  सवर्णों का क्षेत्र है, यहां पर एस सी/ एस टी का विरोध है. कृपया भाजपा के लिए वोट न मांगें .' संशोधित एस सी/एस टी एक्ट के विरोध में प्रतापगढ़ की बाजारों में सवर्ण दुकानदार लगा रहे पोस्टर. कोहड़ौर इलाके के मकूनपुर बाजार समेत आस-पास के बाजारों में सवर्ण दुकानदार पोस्टर लगाकर जता रहे भाजपा की केंद्र सरकार का विरोध. लोकसभा चुनाव में भाजपा पर भारी पड़ेगा सवर्णों का विरोध! सवर्णों को नाराज कर मिशन 2019 को कैसे साधेगी भाजपा. केंद्र सरकार को एस सी/ एस टी एक्ट में संसोधन करना भारी पड़ रहा है. अब तो बाजारों की दुकानों पर सवर्णों ने पोस्टर लगाकर संसोधित एक्ट का विरोध करना शुरू कर दिया है.

प्रतापगढ़ के कोहड़ौर इलाके में बाजारों में सवर्ण दुकानदारो और व्यापारियों ने अपनी दुकानों पर पोस्टर लगाकर संसोधित एक्ट का विरोध शुरू कर दिया है.  

इस पोस्टर में एक्ट का विरोध करते हुए भाजपा के पक्ष में वोट मांगने की मनाही की गयी है. ये पोस्टर जहा चर्चा के विषय हैं वही भाजपा के लिए चिंता का विषय है.  

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर यह पोस्टर लगाये जा रहे. जिससे केंद्र की भाजपा सरकार पर  सवर्णों का दबाव बन सके. खास बात यह है कि अपनी दुकानों पर पोस्टर लगाने वाले लोग खुद को भाजपा समर्थक भी बताते हैं लेकिन संसोधित एक्ट के विरोध में वह भाजपा को वोट न देने की बातें करते हैं. कुछ दुकानदार तो इस एक्ट से खुद को पीड़ित भी बताते हैं. फ़िलहाल जिस तरह सार्वजानिक चाय पान की दुकानों और प्रतिष्ठानो पर यह पोस्टर लगाये जा रहे वह भाजपा के 2019 के मिशन के लिए मुश्किलें  बन रहा.