अजब-गजब: 12 साल पहले हुआ अपहरण, 4 लोगों ने काटी सजा, अपने ही घर में मिला शख्स

इस मामले में एक चौंकाने वाली बात सामने आई है. वह यह है कि 2008 से अब तक जिस व्यक्ति का पता नहीं चल रहा था, उसकी पत्नी ने दो बच्चों को जन्म भी दिया. 

अजब-गजब: 12 साल पहले हुआ अपहरण, 4 लोगों ने काटी सजा, अपने ही घर में मिला शख्स
जोखन तिवारी.

भदोही: उत्तर प्रदेश के भदोही जनपद में एक बड़ा ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है. करीब 12 साल पहले एक व्यक्ति का अपहरण होने के मामले में 4 लोगों पर मुकदमा लिखा गया था. चारों आरोपियों ने करीब तीन साल तक जेल की सजा काटी. वहीं, अब 12 साल बाद जिस शख्स का अपहरण हुआ था वह अपने घर में मौज काटते हुए मिला. 

ये भी पढ़ें- Hardoi Crime Story: बाप ने पहले काटी बेटी की गर्दन, फिर कटे सिर के साथ निकल गया थाने

क्या है मामला?
मामला भदोही जिले के गोपीगंज थाना क्षेत्र का है. यहां के चक निरंजन गांव निवासी जोखन तिवारी का 12 साल पहले अपहरण हुआ था. जिसके आरोप में उनके परिजनों ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. चारों के खिलाफ आईपीसी की धारा 364, 504 और 506 के तहत गोपीगंज थाना में मुकदमा दर्ज हुआ था. सभी आरोपियों को 1 हफ्ते के अंदर ही गिरफ्तार कर लिया गया था. जिसके बाद करीब 3 साल दो महीने तक सभी आरोपी जेल में भी बंद रहे.  

ये भी देखें- कमजोर दिल वाले ना देखें ये Video: बेटी का कटा सिर लेकर सड़क पर घूमता दिखा हत्यारा बाप

12 साल बाद अपने ही घर में मिला शख्स
इस समय सभी आरोपी हाईकोर्ट से जमानत पर हैं. वहीं, जिस व्यक्ति का हत्या की नियत से अपहरण करना बताया जा रहा था, वह व्यक्ति करीब 12 साल के बाद अपने घर में ही मिला है. जिन आरोपियों ने जेल की सजा काटी उनका कहना है कि वह निर्दोष हैं. उनको साजिश के तहत फंसाया गया है. 

ये भी पढ़ें- पंचायत चुनाव के पहले ही UP में ताबड़तोड़ फेरबदल, एक दिन में 40 IAS अफसर हुए इधर-ऊधर, देखें लिस्ट

ऐसे खुली पोल
जोखन तिवारी बुधवार को अपने घर आया हुआ था. जिसे एक आरोपी के परिजनों ने देख लिया और पुलिस को सूचना दी. जिसके बाद पुलिस उसको गोपीगंज थाना लेकर आई. पुलिस ने उसका बयान दर्ज किया.

ये भी पढ़ें- UP TET 2020: कैंडिडेट्स अभी से शुरू कर लें यूपी टीईटी की तैयारी, इस महीने में होगी परीक्षा 

पत्नी के हुए दो बच्चों का नहीं दे पाया जवाब
इस मामले में एक चौंकाने वाली बात सामने आई है. वह यह है कि 2008 से अब तक जिस व्यक्ति का पता नहीं चल रहा था, उसकी पत्नी ने दो बच्चों को जन्म भी दिया. वहीं, जोखन तिवारी का कहना है कि जिन चार आरोपियों पर उनके परिजनों ने मुकदमा लिखाया था, उन्हीं लोगों ने उसको मारपीट कर कहीं फेंक दिया था. वहीं, जब उससे पूछा गया कि इस बीच उसकी पत्नी को एक लड़का और एक लड़की कैसे हुई? तो वह इस पर सही तरीके से जवाब नहीं दे सका. इतने सालों में वह कहां रहा इस विषय में भी वह गोलमोल जवाब देता रहा. 

ये भी पढ़ें- सड़क पर सूट-बूट में आया हाथी, आनंद महिंद्रा बोले- 'Ele- Pant' 

पुलिस ने क्या कहा?
मामले में पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह का कहना है, "उक्त मामले में अपहरण का मुकदमा दर्ज हुआ था. जिसके बाद यह व्यक्ति नहीं मिला. अब इतने सालों बाद वह मिला है तो मामले में उससे पूछताछ की जाएगी. मामला कोर्ट के समक्ष है. जोखन को कोर्ट में पेश किया जाएगा. यह प्रकरण आगे न्यायालय पर निर्भर है कि वहां से क्या कार्रवाई होती है." 

ये भी देखें- कोर्ट में सबके सामने पत्नी ने कर दी पति की पिटाई, देखिए- कैसे भाग कर बचाई जान​

WATCH LIVE TV