उत्तर प्रदेश में अभी गर्मी और लू से राहत नहीं, अगले 4 दिन जमकर सितम ढाएगा सूरज

17 मई को सूबे के अहम शहरों मथुरा, कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज और झांसी में पारा पहली बार 40 के पार गया था. 24 मई आते-आते दिन के वक्त इन शहरों में तापमान औसतन 46 से 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है. मौसम विभाग के मुताबिक गर्मी और लू का ये प्रकोप 29 मई तक यूं ही जारी रहेगा.

उत्तर प्रदेश में अभी गर्मी और लू से राहत नहीं, अगले 4 दिन जमकर सितम ढाएगा सूरज
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन में भले ही राहत मिली हो, लेकिन गर्मी के लॉकडाउन से अभी राहत मिलने वाली नहीं है, मौस विभाग ने अनुमान जताया है कि प्रदेश में अगले 4 दिन प्रचंड गर्मी पड़ने वाली है. ज्यादातर जिलों में पारा 45 डिग्री सेल्सियस के भी पार जा सकता है, ऐसे में आम जनता को लू के थपेड़ों का सामना करना होगा. ऐसे में अपनी सेहत का ख्याल रखते हुए बिना जरूरी काम के घर के अंदर ही रहने में भलाई है.

पंखे, कूलर, एसी की बिक्री बढ़ी 
राजधानी लखनऊ से लेकर प्रदेश के सभी जिलों में गर्मी को देखते हुए पंखे, कूलर और एसी की बिक्री बढ़ गई है. लॉकडाउन में मिली छूट के बाद लोग गर्मी से बचने के लिए कूलर और एसी की खरीदारी के लिए निकल रहे हैं.
यूं तो रेफ्रिजरेटर की भी बिक्री बढ़ी हुई है, लेकिन इसके अलावा लोग मिट्टी के बने घड़े भी खरीद रहे हैं. बड़ी संख्या में मटके, घड़े और सुराही को ग्राहक खरीदने के लिए आ रहे हैं. ये बात अलग है कि लॉकडाउन के चलते पहले के मुकाबले इस बार बिक्री कम हो रही है,

इसे भी पढ़िए : योगी सरकार में हर कामगार को मिलेगा काम, 14.75 लाख श्रमिकों की स्किल मैपिंग कराई गई 

हफ्ते भर में 5-7 डिग्री चढ़ा पारा 
राजधानी लखनऊ में दोपहर के वक्त पारा 43 डिग्री सेल्सियस पहुंच रहा है. जहां 15 मई तक ज्यादातर शहरों में पारा 40 डिग्री से नीचे ही था, वहीं 17 मई से सूरज ने अपना अलग ही रंग दिखाना शुरू कर दिया है. 17 मई को सूबे के अहम शहरों मथुरा, कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज और झांसी में पारा पहली बार 40 के पार गया था. 24 मई आते-आते दिन के वक्त इन शहरों में तापमान औसतन 46 से 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है. मौसम विभाग के मुताबिक गर्मी और लू का ये प्रकोप 29 मई तक यूं ही जारी रहेगा.

सबसे गर्म रहेगा बुंदेलखंड 
राजस्थान से चल रही गर्म हवा के थपेड़ों ने बुंदेलखंड को प्रदेश का सबसे गर्म इलाका बना दिया है. यहां ज्यादातर शहरों में तापमान 45 डिग्री के पार ही है. ओजोन लेयर में भी गर्म और खतरनाक गैसों के दबाव से गर्मी बढ़ रही है.

ये भी देखिए : सावधान ! आंखों से भी फैल सकता है कोरोना संक्रमण, जानिए कैसे होगा बचाव 

क्या कहते हैं डॉक्टर ?
डॉक्टरों का कहना है कि जिस तरह लू के थपेड़े बढ़ रहे हैं इससे हीट स्ट्रोक, डिहाड्रेशन, तेज बुखार, और सन्निपात या बेहोशी भी आ सकती है. ऐसे में शिकंजी, शर्बत, दही और नींबू जैसी ठंडी चीजों का सहारा लेना होगा. चूंकि इस बार कोरोना संक्रमण का भी डर है, ऐसे में घर से ही ये पेय पदार्थ अपने साथ लेकर चलें. अगर जरूरत न हो तो घर के अंदर ही बने रहें.

WATCH LIVE TV