पिथौरागढ़: भारी बर्फबारी की वजह से फंसे ITBP के जवान, अब ली जाएगी हेलीकॉप्टर की मदद

उच्च हिमालयी क्षेत्र की दो चौकियों रेलकोट और बुगड़ियार में कुल 38 लोग फंसे हैं. जिन में से बुगड़ियार में 19 जवान और 4 पोर्टर्स को निकालने के लिए 9 पोर्टर्स की टीम रवाना कर दी गई है.

पिथौरागढ़: भारी बर्फबारी की वजह से फंसे ITBP के जवान, अब ली जाएगी हेलीकॉप्टर की मदद
फाइल फोटो

पिथौरागढ़: भारी बर्फबारी के चलते चीन सीमा पर उच्च हिमालयी क्षेत्र की चौकियों में फंसे आईटीबीपी के जवानों के रेस्क्यू के लिए अब हेलीकॉप्टर की मदद ली जाएगी. पिथौरागढ़ जिलाधिकारी और 14वीं वाहिनी आईटीबीपी कमान्डेंट ने संयुक्त प्रेस वार्ता कर इस बात की जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि उच्च हिमालयी क्षेत्र की दो चौकियों रेलकोट और बुगड़ियार में कुल 38 लोग फंसे हैं. जिन में से बुगड़ियार में 19 जवान और 4 पोर्टर्स को निकालने के लिए 9 पोर्टर्स की टीम रवाना कर दी गई है. जबकि रेलकोट में भारी बर्फबारी के बीच फंसे 9 जवान और 7 पोर्टर्स को निकालने के लिए वायुसेना के चीता हेलीकॉप्टर की मदद ली जायेगी.

उन्होंने बताया इस इलाके में 5 से 6 फीट बर्फ गिरी है. वहीं आईटीबीपी का कहना है कि रेलकोट और बुगड़ियार कि चौकियां पूरी तरह सुरक्षित हैं. वहां 6 महीने का राशन भी पड़ा हुआ है. आपको बता दें कि हर साल दिसम्बर माह में चीन सीमा से लगी रेलकोट और बुगड़ियार की अस्थाई चौकियों से जवान मिलम और लीलम चौकियों की तरफ आ जाते हैं. मगर इस बार समय से पहले ही भारी हिमपात हो गया. जिस कारण जवान समय रहते नीचे नहीं आ पाये.