close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आज अखिलेश यादव से मिलेंगे तेजस्‍वी, कल मायावती से की थी मुलाकात

सूत्रों के मुताबिक तेजस्वी राजद के लिए यूपी में सीट तलाशने और बदले में बिहार में सीट देने के फार्मूले पर मायावती से हुई बातचीत को अखिलेश से साझा कर इस दिशा में आगे बढ़ने की कोशिश करेंगे.

आज अखिलेश यादव से मिलेंगे तेजस्‍वी, कल मायावती से की थी मुलाकात
यूपी में सीटें तलाशने की जुगत में हैं तेजस्‍वी यादव. फाइल फोटो

लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए 80 सीटों पर हुए समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच गठबंधन से सियासी गलियारों में सर‍गर्मियां तेज हैं. लखनऊ पहुंचे आरजेडी के नेता तेजस्‍वी यादव ने रविवार को बसपा अध्‍यक्ष मायावती से मुलाकात की थी. इसी क्रम में सोमवार को तेजस्‍वी यादव अखिलेश यादव से मुलाकात करेंगे. 

सूत्रों के मुताबिक तेजस्वी राजद के लिए यूपी में सीट तलाशने और बदले में बिहार में सीट देने के फार्मूले पर मायावती से हुई बातचीत को अखिलेश से साझा कर इस दिशा में आगे बढ़ने की कोशिश करेंगे. तेजस्वी यादव आज 12:30 बजे दारुलसफा स्थित राजद के ऑफिस जाएंगे. वहां वह पहले मीडिया से बातचीत करेंगे. इसके बाद तेजस्वी अखिलेश से मुलाकात के लिए रवाना होंगे.


रविवार को मायावती से मिले थे तेजस्‍वी यादव. फोटो ANI

सपा-बसपा गठबंधन का ऐलान होने के बाद पड़ोसी राज्य बिहार में सक्रिय राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव ने रविवार को बीएसपी प्रमुख मायावती से मुलाकात करके इस गठबंधन को बनाने के लिए शुक्रिया कहा. बीएसपी सुप्रीमो से उनके आवास पर मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि इस गठबंधन के बनने के बाद भारतीय जनता पार्टी का पूरे उत्तर प्रदेश में सफाया हो जाएगा और वे कभी सत्ता में वापस नहीं आ पाएंगे. 

तेजस्‍वी यादव ने इस दौरान कहा 'हम मायावती और अखिलेश यादव से एक शिष्टाचार मुलाकात करने आए हैं. सबसे छोटे हैं हम और सबका आशीर्वाद लेने आए हैं. लालू जी ने यही कल्पना की थी कि उत्तर प्रदेश में भी महागठबंधन हो, मायावती और अखिलेश यादव मिलकर चुनाव लड़ें.
उन्‍होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि देश मे अघोषित एमरजेंसी लगाई गई है, संविधान से छेड़छाड़ की जा रही है और आरक्षण को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है.


फाइल फोटो

तेजस्‍वी ने कहा कि संवैधानिक संस्थाओं पर तानाशाही की जा रही है. जो काम मोहन भागवत ने किया था, वही मोदी जी कर रहे हैं. हमारी मोदी जी से कोई लड़ाई नहीं है बस विचारों और सिद्धांतों की लड़ाई है. सभी साथ मिलकर लड़ेंगे.

उन्‍होंने कहा कि लालू जी आज इसलिए जेल में हैं क्योंकि उन्होंने मोदी जी के आगे घुटने नहीं टेके. हमारी जब मूछ भी नहीं आई थी तब हमपर केस करा दिया गया था. 14-15 साल की उम्र में हमपर केस कर दिया गया था, जिसमें हमारे चाचा नीतीश का भी हाथ था. देश में इतिहास में पहली बार आरबीआई के गवर्नर ने इस्तीफा दिया है.

इस दौरान तेजस्वी ने आरोप लगाया कि बीजेपी बाबा साहेब आंबेडकर के बनाए संविधान को खत्म कर नागपुर का कानून लागू करने में जुटी है. जनता मायावती और अखिलेश की दोस्ती का स्वागत कर रही है. बिहार और उत्तर प्रदेश से बीजेपी का सफाया हो जाएगा. उत्तर प्रदेश में बीजेपी एक भी सीट नहीं जीतेगी. सभी सीटों पर सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी जीतेंगे.