CM की मंजूरी के बाद UP Board के स्टूडेंट्स को पास करने के लिए लागू होगा यह फॉर्मूला

हाई स्कूल में 29,94,312 स्टूडेंट्स और इंटर में 26,10,316 परीक्षार्थी हैं. सरकार के इस फैसले का असर राज्य के 56,04,628 बच्चों पर पड़ेगा. 

CM की मंजूरी के बाद UP Board के स्टूडेंट्स को पास करने के लिए लागू होगा यह फॉर्मूला

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के बच्चों को प्रमोट करने का फॉर्मूला लगभग तय माना जा रहा है. हाई स्कूल के परीक्षार्थियों को क्लास-9 के 50% मार्क्स और 10वीं प्री-बोर्ड में प्राप्तांक अंक के 50% मार्क्स देकर रिजल्ट घोषित किया जा सकता है. वहीं, इंटरमीडिएट के स्टूडेंट्स को हाई स्कूल के 50%, 11वीं क्लास के 40% और 12वीं के प्री-बोर्ड के 10% मार्क्स देकर रिजल्ट निकाला जा सकता है. गौरतलब है कि इसका ड्राफ्ट अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा विभाग आराधना शुक्ला की अध्यक्षता में गठित कमेटी में तैयार किया गया है. 

Twitter India के MD को गाजियाबाद पुलिस की नोटिस, एक हफ्ते के अंदर थाने बुलाया

सीएम लगाएंगे ड्राफ्ट पर मुहर
बता दें, परीक्षा परिणाम घोषित करने के लिए गठित कमेटी को प्रदेश भर से 3910 सुझाव मिले थे. अब यह ड्राफ्ट 20 जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने पेश किया जाएगा. सीएम की मंजूरी के बाद यह फॉर्मूला लागू कर दिया जाएगा. 

पता है एक दिन में कितने शब्द बोल जाते हैं आप? हजार- दो हजार नहीं, चौंकाने वाली है संख्या

दोबारा एग्जाम देकर सुधार सकते हैं रिजल्ट
जानकारी के मुताबिक, हाई स्कूल में 29,94,312 स्टूडेंट्स और इंटर में 26,10,316 परीक्षार्थी हैं. सरकार के इस फैसले का असर राज्य के 56,04,628 बच्चों पर पड़ेगा. इसी के साथ यह भी बताया जा रहा है कि अगर बच्चे अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होंगे तो आने वाले दिनों में एग्जाम देकर परिणाम सुधार सकेंगे. वहीं, परीक्षार्थियों से लिया गया परीक्षा शुल्क वापस नहीं किया जाएगा.

WATCH LIVE TV