close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सहारनपुर में बोले योगी- अपराधियों में वर्दी का भय हो, क्राइम कम करना है जिले में मजबूत टीम बनाओ

मुख्यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने जिला प्रशासन को जल्द से जल्द एन्टी-रोमियो स्क्वाड गठित करने का निर्देश देते हुए कहा, कि 1 जुलाई को कॉलेज, स्कूल खुलने से पहले एन्टी-रोमियो स्क्वाड का गठन हो जाना चाहिए.

सहारनपुर में बोले योगी- अपराधियों में वर्दी का भय हो, क्राइम कम करना है जिले में मजबूत टीम बनाओ

सहारनपुर: प्रदेश में अपराध का स्तर न्यूनतम करने की दिशा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला स्तर पर मजबूत टीमों के गठन करने का निर्देश देते हुए कहा कि अपराधियों में वर्दी का भय होना चाहिए और जनता के मन में वर्दी का भरोसा कायम करना होगा. मुख्यमंत्री ने आज सहारनपुर क्षेत्र की कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए यह निर्देश सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, और शामली के जिला प्रशासन को दिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन अधिकारियों में काम के प्रति उमंग न हो उनको घर भेजने की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जानी चाहिए. प्रदेश को औपचारिकता निभाने वाले एवं भ्रष्ट अधिकारियों की रत्ती भर भी जरूरत नहीं है. इसके अलावा जिलों के पुलिस अधीक्षकों को प्रत्येक दिन सुबह 9 बजे से 11 बजे तक जनता की समस्याएं सुनकर उनका निवारण करने का भी निर्देश मुख्यमंत्री ने दिया. अधिकारियों को अपने क्षेत्र का औचक निरीक्षण कर दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही करनी चाहिए तभी जनता का भरोसा जीता जा सकता है.

योगी आदित्यनाथ ने जिलों के पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया कि संवेदनशील इलाकों को चिन्हित कर उनमें पुलिस गश्त बढ़वाएं. इसी प्रकार थाना स्तर पर उपद्रवी तत्वों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्यवाही कर उन्हें जल्द से जल्द सज़ा दिलवाएं. महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को रोकने के लिए मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को जल्द से जल्द एन्टी-रोमियो स्क्वाड गठित करने का निर्देश देते हुए कहा, कि 1 जुलाई को कॉलेज, स्कूल खुलने से पहले एन्टी-रोमियो स्क्वाड का गठन हो जाना चाहिए.

मुख्यमंत्री ने महिला पुलिस कर्मियों की सहायता से कॉलेज और स्कूलों में महिलाओं को जागरूक करने का भी निर्देश दिया. हैंड बिल के जरिए ऐसे अपराधों के बारे में जागरूकता जगाकर भी महिलाओं के खिलाफ अपराधों में कमी लायी जा सकती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार महिलाओं, बालिकाओं के खिलाफ अपराधों से सख्ती से निपटेगी. इसमें किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

भू-माफिया और अवैध खनन करने वालों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्यवाही करने का निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, की ऐसे लोगों की सम्पत्तियां भी जब्त करने की दिशा में काम होना चाहिए. सजा के साथ साथ ऐसे लोगों की सम्पत्तियां भी जब्त होनी चाहिए तभी उनके हौसले टूटेंगे.

अवैध बूचड़खानों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने का निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, गोवंश की हत्या एक संवेदनशील मुद्दा है और कई बार दंगों का भी कारण बनता है. भले ही लोग गाय को पालकर उसकी सेवा न कर पाएं, लेकिन उसको चोट लगते देखकर वह दुखी हो जाते हैं इसलिए उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए सभी अवैध बूचड़खानों को तत्काल प्रभाव से बंद करवाना चाहिए.

जहरीली शराब और मादक द्रव्यों की बिक्री को भी रोकने की दिशा में ठोस कदम उठाने के निर्देश मुख्यमंत्री ने पुलिस प्रशासन को दिए और कहा कि मुनाफाखोरी की आड़ में किसी की जान नहीं जाने दी जा सकती है. पंजाब के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मादक द्रव्यों का खतरा हो सकता है. प्रशासन को चौकन्ना रहकर इस खतरे के खिलाफ लड़ाई लड़नी है और युवाओं को इसकी चपेट में आने से बचाना है.