close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पश्चिम बंगाल: बांग्‍लादेशी तस्‍करों ने बीएसएफ के जवान पर किया बम से हमला, हालत नाजुक

बीएसएफ जवान को गंभीर अवस्‍था में कोलकाता के एक अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है. जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. 

पश्चिम बंगाल: बांग्‍लादेशी तस्‍करों ने बीएसएफ के जवान पर किया बम से हमला, हालत नाजुक
बीएसएफ के आईजी ने तस्‍करों के खिलाफ सख्‍त रुख अपनाने के निर्देश दिए हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: पश्चिम बंगाल से प‍शुओं की तस्‍करी कर बांग्‍लदेश ले जाने वाले तस्‍करों ने बीएसएफ के जवान पर बम से जानलेवा हमला कर दिया. बंग्‍लादेशी तस्‍करों द्वारा फेंका गया बम बीएसएफ जवान के दाए हाथ में आकर फटा. बम फटते ही बीएसएफ के जवान के दाएं हाथ के पचखर्रे उड़ गए. वहीं, बम से निकले छर्रे बीएसएफ जवान के पूरे शरीर में धंस गए. बीएसएफ जवान को गंभीर अवस्‍था में कोलकाता के एक अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है. जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. 

बीएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, यह वारदात पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले के अंतर्गत आने वाले अनगरैल बार्डर पोस्‍ट की है. भारत और बांग्‍लादेश की सीमा पर बने बार्डर पोस्‍ट पर किसी भी तरह की गैरकानूनी गतिविधियों को रोकने के लिए बीएसएफ के जवानों को तैनात किया गया है. उन्‍होंने बताया कि 11 जुलाई की सुबह करीब 3:30 बजे 25 बांग्‍लादेशी तस्‍कर करीब 10 से 15 पशुओं की तस्‍करी कर बांग्‍लादेश ले जाने का प्रयास कर रहे थे.  

बार्डर पर बीएसएफ की तैनाती को देखते हुए ये बांग्‍लादेशी तस्‍कर देशी बम, दहास, हसिया, डंडों और हाईबीम टार्च से लैस होकर आए थे. बांग्‍लादेशी तस्‍कर इन पशुओं को लेकर बांग्‍लादेश की सीमा में दाखिल होने ही वाले थे, तभी अंतरर्राष्‍ट्रीय सीमा पर तैनात बीएसएफ के जवान को इन तस्‍करों की संदिग्‍ध गतिविधि की भनक लग गई. उसने देखा कि बांग्‍लादेश की सीमा से महज 200 मीटर की दूरी पर मौजूद हैं.  जिसके बाद, बीएसएफ के जवान ने बांग्‍लादेशी तस्‍करों को ललकारते हुए तस्‍करी की कोशिश को रोकने का प्रयास किया.

बीएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि बांग्‍लादेशी तस्‍करों ने किसी भी कीमत पर तस्‍करी के मंसूबों को अंजाम देने के लिए बीएसएफ के कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान को चारों तरफ से घेर लिया. बीएसएफ कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान की दृष्टि बाधित करने के लिए बांग्‍लादेशी तस्‍करों ने उनकी आंखों में हाईबीम लाइट से रोशनी डालना शुरू कर दी और शक्तिशाली देशी बम से उस पर हमला बोल दिया. बांग्‍लादेशी तस्‍करों द्वारा फेंका गया बम कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान के करीब आकर फटा. 

बम से हमले के बावजूद, कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान ने अभूतपूर्व साहस का परिचय देते हुए आत्‍मरक्षा में नॉन-लीथल पीएजी गन से बांग्‍लादेशी तस्‍करों की तरफ फायर किया. गंभीर रूप से घायल होने के बावजूद कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान बांग्‍लादेशी तस्‍करों को आगे नहीं बढ़ने दे रहे थे. जिससे बौखलाए तस्‍करों ने एक बार फिर बम से कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान पर हमला किया. यह बम कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान के दाएं हाथ में आकर फटा. बम की चपेट में आने के चलते अनीसुर रहमान के दाएं हाथ का पूरा पंजा शरीर से अलग हो गया और बम के छर्रे पूरे शरीर में धंस गए. 

बीएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि पूरे शरीर में बम के छर्रे धंसने के चलते कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान का लीवर, फेफड़े और पेट बुरी तरह से जख्‍मी हो गए हैं. उन्‍होंने बताया कि इसी बीच कुछ दूरी पर मौजूद बीएसएफ के जवान मौके पर पहुंच गए. उन्‍होंने बताया कि हमले को अंजाम देने वाले तस्‍कर जंगली घास, अंधेरा और जानवरों की ओट लेकर मौके से फरार होने में सफल रहे. मौके पर पहुंचे जवानों ने तत्‍काल बुरी तरह से जख्‍मी कांस्‍टेबल अनीसुर रहमान को कोलकाता के एक अस्‍पताल में भर्ती कराया. जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. 

वहीं, बांग्‍लादेशी तस्‍करों द्वारा अंजाम दी गई जघन्‍य वारदात के बाद दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के इंस्‍पेक्‍टर जनरल ने सख्‍त रुख अख्तियार किया है. उन्‍होंने निर्देश दिए हैं कि सभी फील्‍ड फार्मेशन को निर्देश दिए हैं कि ट्रांस बार्डर क्रिमिनल के खिलाफ बेहद सख्‍त रुख अपनाते हुए कार्रवाई की जाए. इसके अलावा, बीएसएफ ने बांग्‍लादेश की सीमा पर तैनात बार्डर गार्ड्स बांग्‍लादेश से इस वारदात को लेकर कड़ी नाराजगी जाहिर की है.