Exclusive: ज़ी न्यूज से खास बातचीत में बोले राजनाथ सिंह- यूपी चुनाव में CM के लिये लाएंगे जाना-पहचाना चेहरा
X

Exclusive: ज़ी न्यूज से खास बातचीत में बोले राजनाथ सिंह- यूपी चुनाव में CM के लिये लाएंगे जाना-पहचाना चेहरा

मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर ज़ी न्यूज से हुए खास बातचीत में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यभार संभाला है तब से भारत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रगति की है। उन्होंने कहा कि सरकार के अभी के परफॉर्मेंस को देखा जाए तो 2019 के आम चुनाव में सरकार पहले से और बेहतर प्रदर्शन करेगी। इस संदर्भ में गृहमंत्री ने हाल ही में हुए सर्वे का भी जिक्र किया।

Exclusive: ज़ी न्यूज से खास बातचीत में बोले राजनाथ सिंह- यूपी चुनाव में CM के लिये लाएंगे जाना-पहचाना चेहरा

नई दिल्ली : मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर ज़ी न्यूज से हुए खास बातचीत में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यभार संभाला है तब से भारत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रगति की है। उन्होंने कहा कि सरकार के अभी के परफॉर्मेंस को देखा जाए तो 2019 के आम चुनाव में सरकार पहले से और बेहतर प्रदर्शन करेगी। इस संदर्भ में गृहमंत्री ने हाल ही में हुए सर्वे का भी जिक्र किया।

अगले साल होने वाले बेहद महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव को देखते हुए गृहमंत्री ने कहा कि बीजेपी इस चुनाव में एक उपयुक्त चेहरे को मुख्यमंत्री के रूप में पेश करेगी। उन्होंने कहा- 'उत्तर प्रदेश में लोग समाजवादी पार्टी से बेहद निराश हैं। वे बदलाव चाहते हैं। उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के पास चेहरों की कमी नहीं है। हम एक चर्चित चेहरे को सामने लाएंगे।

पाकिस्तान को लेकर भारत सरकार की नीति पर उन्होंने कहा- 'पठानकोट हमले की जांच के दौरान अग्रिम तौर पर यह तय किया गया था कि संयुक्त जांच दल (जेआईटी) भारत आएगी और एनआईए पाकिस्तान जाएगी, लेकिन पाकिस्तान ने इस समझौते का उल्लंघन किया।'

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी से जुड़े पूरे विवाद पर राजनाथ सिंह ने कहा कि देश को तोड़ने वाली किसी भी गतिविधि को भारतीय जनता पार्टी नजरअंदाज नहीं करेगी। उन्होंने कहा- 'दिल्ली पुलिस ने उपयुक्त कदम उठाए। यदि पूरी दुनिया भी इस तरह के कृत्य का समर्थन करेगी तब भी भारतीय जनता पार्टी इसे नजरअंदाज नहीं करेगी।'

गृहमंत्री से जब उत्तराखंड मामले को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'उत्तराखंड संकट कांग्रेस का आंतरिक मामला था, इसमें भारतीय जनता पार्टी के पास करने को कुछ नहीं था। राष्ट्रपति शासन तभी लगाया गया था जब राज्यपाल ने रिपोर्ट भेजी थी।'

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी गठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं होने की बात पर उन्होंने कहा- 'हमारे पास पीडीपी पर भरोसा ना करने की कोई वजह नहीं है। जम्मू-कश्मीर के विकास के लिये दोनों साथ-साथ हैं।' हालांकि गृहमंत्री ने इशरत जहां मामले में उन्होंने ज्यादा कुछ कहने से इनकार कर दिया।

ये भी देखे

Trending news