हिंदू, बौद्ध, जैन, सिख शरणार्थियों के अलावा हर घुसपैठिए को देश से निकाल बाहर करेंगे: अमित शाह

अमित शाह ने कहा, 'असम की तरह बंगाल में भी हम एनआरसी लाने वाले हैं. ममता जी जितना ताकत है रोक लो'

हिंदू, बौद्ध, जैन, सिख शरणार्थियों के अलावा हर घुसपैठिए को देश से निकाल बाहर करेंगे: अमित शाह
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक चुनाव रैली में कहा कि बीजेपी बंगाल में एनआरसी को लागू करेगी. अमित शाह ने कहा कि  बौद्ध, हिंदू, जैन और सिख शरर्थियों को छोड़कर हर घुसपैठिए को देश से बाहर निकाल देंगे. 

अमित शाह ने कहा, 'असम की तरह बंगाल में भी हम एनआरसी लाने वाले हैं. ममता जी जितना ताकत है रोक लो, एनआरसी मोदी जी लेकर आएंगे और एक एक घुसपैठिए को बंगाल की खाड़ी में डाल देंगे.' 

बांग्लादेश, पाकिस्तान या कहीं से भी जो हिंदू, बौद्ध, जैन और सिख शरणार्थी भारत आए हैं उनको हम नहीं निकालने वाले हैं, जो शरणार्थी आए हैं वो हमारे भाई हैं वहां से परेशान होकर आए हैं, उनको नागरिकता देकर अपना सगा भाई बनाकर भारत में बसाने की व्यवस्था भारतीय जनता पार्टी करेगी. 

बीजेपी प्रमुख ने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस तुष्टिकरण, माफियागीरी और चिटफंड में लगी है। ‘टीएमसी’ (तृणमूल कांग्रेस) के ‘टी’ का मतलब ‘तुष्टिकरण’, ‘एम’ का मतलब ‘माफिया’ और ‘सी’ का मतलब चिटफंड है।’

amit shah says We will remove every single infiltrator from the country, except Buddha, Hindus, Sikhs, jain

कांग्रेस और आप ने साधा निशाना
अमित शाह के इस बयान के बाद कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने बीजेपी पर निशाना साधा है. कांग्रेस ने ट्वीट करके कहा, यह वह नया इंडिया है (भाईचारे और एकता से शून्य) जो वे बनाना चाहते हैं. बीजेपी ने साफ कर दिया है वे संविधान की इज्जत नहीं करते. उन्हें देश को सांप्रदायिक आधार पर बांटने का कोई पछताप नहीं है. 

amit shah says We will remove every single infiltrator from the country, except Buddha, Hindus, Sikhs, jain

वहीं अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा, 'पाकिस्तान और इमरान खान भी यही चाहते हैं कि हिंदुस्तान में दंगे फैलें. इसीलिए पाकिस्तान खुल कर मोदी जी को फिर PM बनाने के लिए हर तरह की मदद कर रहा है. जो काम पाकिस्तान 70 साल में नहीं कर पाया, उसके दोस्त मोदी जी ने पांच साल में कर दिया- हिंदुस्तान का भाईचारा ख़राब कर दिया.