कुमारस्‍वामी ने बताया आखिर क्‍यों उन्‍होंने PM मोदी पर दिया था विवादित बयान

कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री ने कहा था कि पीएम मोदी हर सुबह उठने के बाद चेहरे पर चमक लाने के लिए मेकअप करते हैं.

कुमारस्‍वामी ने बताया आखिर क्‍यों उन्‍होंने PM मोदी पर दिया था विवादित बयान
एचडी कुमारस्‍वामी ने दी सफाई. फोटो ANI

नई दिल्‍ली : कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनकी ओर से दिए गए विवादित बयान पर सफाई दी है. दरअसल उन्‍होंने 9 अप्रैल को एक रैली में कहा था कि पीएम मोदी हर सुबह उठने के बाद चेहरे पर चमक लाने के लिए मेकअप करते हैं. अपने इस बयान पर उन्‍होंने अब सफाई देते हुए कहा, 'मैंने ऐसा इसलिए कहा था कि बीजेपी के सभी लोग कहते हैं कि पीएम नरेंद्र मोदी का चेहरा देखें और हमें वोट दें.'

 

उन्‍होंने पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर पर किए गए भारतीय सेना की एयरस्‍ट्राइक के मुद्दे पर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि पीएम मोदी चुनावी रैलियों में एयरस्‍ट्राइक का जिक्र कर सकते हैं. लेकिन उनके द्वारा उनके ऑफिस (पीएमओ) का गलत तरीके से इस्‍तेमाल करना गलत है.

उन्‍होंने कहा कि इस देश में पहले भी कई प्रधानमंत्री रहे. भारत और पाकिस्‍तान के बीच युद्ध भी हुए. लेकिन किसी ने भी उसे मुद्दा बनाकर इसका लाभ नहीं उठाया. पीएम मोदी देश की जनता का गुमराह कर रहे हैं.

कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी ने समाचार एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्‍यू में कहा है कि पहले लोग मेरा विरोध कर रहे थे. लेकिन अब लोग इस बात से आश्‍वस्‍त हो गए हैं कि कुमारस्‍वामी ने कांग्रेस से हाथ मिलाकर अच्‍छा किया है. वह यह भी समझ गए हैं कि कुमारस्‍वामी अब कर्नाटक के विकास के लिए प्रयासरत हैं. लोगों का यही मानना है.

सीएम कुमारस्‍वामी ने अपने पिता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा का भी हवाला दिया. उन्‍होंने सवाल पूछा कि जब 1995 में मेरे पिता एचडी देवेगौड़ा 10 महीने के लिए प्रधानमंत्री थे तब क्‍या देश में कोई आतंकी घटना हुई थी? उस दौरान भारत-पाकिस्‍तान सीमा पर कोई आतंकी गतिविधि हुई थी? जब मेरे पिता पीएम थे तो पूरा देश शांत था.

 

उन्‍होंने कहा कि एचडी देवेगौड़ा एक अच्‍छे और अनुभवी प्रशासक हैं. मेरे हिसाब से वे अन्‍य सभी से कहीं अधिक बेहतर हैं. लेकिन अब उनकी इसमें कोई रुचि नहीं है. उन्‍होंने पहले ही प्रधानमंत्री के लिए राहुल गांधी का नाम घोषित कर दिया है. उन्‍होंने कहा कि चुनाव बाद बीजेपी सरकार नहीं होगी. हम कई क्षेत्रीय दलों के साथ मिलकर सरकार बनाएंगे. ऐसे में देवेगौड़ा सलाहकार की अहम भूमिका निभाएंगे. मैं भी उस सरकार का हिस्‍सा रहूंगा लेकिन रहूंगा कर्नाटक में ही.