close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चिराग पासवान : 2014 में आसानी से हुई थी लॉन्चिंग, 2019 में है कड़ा मुकाबला

2014 में वोट के गणित पर अगर गौर करें तो जमुई लोकसभा सीट से लोजपा उम्मीदवार चिराग पासवान के खाते में कुल 2,85,354 और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) उम्मीदवार सुधांशु शेखर के खाते में कुल 1,99,407 वोट पड़े थे. 

चिराग पासवान : 2014 में आसानी से हुई थी लॉन्चिंग, 2019 में है कड़ा मुकाबला
जमुई लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं चिराग पासवान. (फाइल फोटो)

जमुई : लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सुप्रीमो और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान बिहार में तेजी से उभरते युवा राजनेताओं में शामिल हैं. लोजपा के साथ-साथ एनडीए गठबंधन में भी सक्रिय हैं. फिल्मों से नाता तोड़कर उन्होंने राजनीति का रुख किया था. पिता की वजह से आसानी से लॉंन्चिंग पैड मिल गया. चिराग एलजेपी के संसदीय कमेटी के प्रमुख भी हैं. 2019 में जमुई से दोबारा दांव आजमा रहे हैं.

2014 में वोट के गणित पर अगर गौर करें तो जमुई लोकसभा सीट से लोजपा उम्मीदवार चिराग पासवान के खाते में कुल 2,85,354 और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) उम्मीदवार सुधांशु शेखर के खाते में कुल 1,99,407 वोट पड़े थे. यह चुनाव जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) अपने दम पर लड़ रही थी. उदय नारायण चौधरी चुनाव मैदान में थे. उन्हें कुल 1,98,599 मत मिले थे और वह तीसरे स्थान पर रहे थे.

इस लोकसभा चुनाव में चिराग पासवान का मुकाबला राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के भूदेव चौधरी से है. भूदेव चौधरी पहले भी यहां से सासंद रह चुके हैं. जमुई लोकसभा क्षेत्र में वह जाना माना चेहरा हैं. इस लोकसभा चुनाव में जमुई सीट से कुल नौ उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं.