close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ममता बनर्जी : पश्चिम बंगाल से निकलकर देश की पहली महिला रेल मंत्री तक का सफर

2011 में उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने अपने दम पर पश्चिम बंगाल में सरकार बनायी और ममता बनर्जी बंगाल की पहली महिला मुख्यमंत्री बनीं.

ममता बनर्जी : पश्चिम बंगाल से निकलकर देश की पहली महिला रेल मंत्री तक का सफर
ममता बनर्जी, मुख्यमंत्री (पश्चिम बंगाल)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष ममता बनर्जी का जन्म 5 जनवरी 1955 को हुआ था. उन्हें देश की पहली महिला रेल मंत्री बनने का गौरव प्राप्‍त है. इसके अलावा उन्होंने केंद्र सरकार में कोयला, मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री, युवा मामलों और खेल के साथ ही महिला व बाल विकास की राज्य मंत्री भी रह चुकी हैं. उनके समर्थक और राजनीतिक विरोधी तक भी उन्हें प्यार से दीदी बुलाते हैं.

ममता बनर्जी ने कला संकाय में स्नातक, एमए की पढ़ाई की. इसके अलावा उन्होंने बीएड और एलएलबी की पढ़ाई भी पूरी की. अपनी पार्टी बनाने से पहले ममता बनर्जी 1970 से 1980 तक पश्चिम बंगाल कांग्रेस (इंदिरा) की महासचिव पद पर रहीं. 1980 से 1985 तक वह भारतीय राष्ट्रीय ट्रेड यूनियन कांग्रेस के महिला मेर्चा की सचिव पद संभाली. 

1984 में ममता बनर्जी जाधवपुर से सांसद बनी. ममता कुल सात बार सांसद बनीं. 2011 में उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने अपने दम पर पश्चिम बंगाल में सरकार बनायी और ममता बनर्जी बंगाल की पहली महिला मुख्यमंत्री बनीं.