लोकसभा चुनाव 2019: NCP छोड़ बीजेपी में आईं भारती पवार दिंडोरी सीट से हैं मैदान में

भारती पवार एनसीपी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुई हैं. वह एनसीपी की प्रदेश ईकाई की उपाध्‍यक्ष थीं. 2009 में इस पर बीजेपी और एनसीपी के बीच कांटे की टक्‍कर हुई थी.

लोकसभा चुनाव 2019: NCP छोड़ बीजेपी में आईं भारती पवार दिंडोरी सीट से हैं मैदान में
बीजेपी में शामिल हुई हैं भारती पवार. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha elections 2019) के चौथे चरण के चुनाव के तहत महाराष्‍ट्र की 17 सीटों पर 29 अप्रैल को मतदान होना है. इनमें दिंडोरी लोकसभा सीट भी शामिल है. पिछले दो चुनावों से इस सीट पर बीजेपी काबिज है. बीजेपी ने इस बार यहां से भारती पवार को मैदान में उतारा है. भारती पवार एनसीपी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुई हैं. वह एनसीपी की प्रदेश ईकाई की उपाध्‍यक्ष थीं. 2009 में इस पर बीजेपी और एनसीपी के बीच कांटे की टक्‍कर हुई थी.

6 विधानसभा सीटें हैं यहां
दिंडोरी लोकसभा क्षेत्र के अतंर्गत 6 विधानसभा सीटें आती हैं. इनमें नंदगांव, कलवान, चंदवाड़, येवला, निफाड़ और दिंडोरी सीटें शामिल हैं. दिंडोरी लोकसभा सीट 2008 में अस्तित्‍व में आई थी. इसके बाद इस सीट पर 2009 में पहली बार चुनाव हुए. इन चुनाव में बीजेपी के हरीशचंद्र चव्‍हाण ने जीत दर्ज की थी. इसके बाद वह 2014 के चुनाव में भी जीते थे.

 

BJP को टक्‍कर देगी एनसीपी
महाराष्‍ट्र की दिंडोरी लोकसभा सीट से इस बार बीजेपी ने अपने मौजूदा सांसद हरीशचंद्र चव्‍हाण का टिकट काटकर एनसीपी से बीजेपी में शामिल हुईं भारती पवार को मैदान में उतारा है. वहीं एनसीपी की ओर से यहां से धनराज महाले चुनाव मैदान में हैं.

हो चुकी कांटे की टक्‍कर
महाराष्‍ट्र की दिंडोरी लोकसभा सीट पर 2009 में कांटे की टक्‍कर हुई थी. 2009 में बीजेपी की ओर से हरीशचंद्र चव्‍हाण मैदान में थे. उन चुनाव में एनसीपी की ओर से नरहरी सीताराम जिरवाल मैदान में थे. हरीशचंद्र चव्‍हाण ने इन चुनाव में 2.81 लाख वोट हासिल किए थे. वहीं जिरवाल को 2.43 लाख वोट मिले थे. इसके बाद 2014 के चुनाव में बीजेपी के हरीशचंद्र चव्‍हाण ने 3.42 लाख वोट मिले थे. इन चुनाव में भारती पवार ने एनसीपी से चुनाव लड़ा था. उन्‍हें 1.95 लाख वोट मिले थे.