• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

सेना ने जब राफेल की खरीद की बात रखी तो कांग्रेस के खास दलाल इसमें भी लग गए: PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कांग्रेस ने बोफोर्स में दलाली खाई और दलाल क्वात्रोकी मामा को भगा दिया. 

सेना ने जब राफेल की खरीद की बात रखी तो कांग्रेस के खास दलाल इसमें भी लग गए: PM मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब बीते वर्षों में बीजेपी बहुत मेहनत से गोवा को विकास के एक नए ट्रैक पर लाई है. (फोटो साभार - (फोटो साभार: @BJP4India) )

पणजी: नरेंद्र मोदी पणजी में एक चुनावी रैली में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के राज में ऐसा कोई रक्षा सौदा नहीं था जो संदेह के दायरे में नहीं था. 

पीएम मोदी ने कहा कांग्रेस ने बोफोर्स में दलाली खाई और दलाल क्वात्रोकी मामा को भगा दिया. पीएम मोदी ने कहा कि जब राफेल की खरीद की बात सेना ने रखी, तो कांग्रेस के नामदार परिवारों के खास दलाल इसमें भी लग गए. परिणाम ये हुआ कि यह डील वर्षों तक अटकी रही और सेना की शक्ति घटती रही. फिर 2014 से पहले घोटालों से भरे माहौल के बीच कांग्रेस ने राफेल का डिब्बा बंद कर दिया.

'हेलीकॉप्टर घोटाले में भी खूब दलाली चली'
पीएम मोदी ने हेलीकॉप्टर घोटाले की चर्चा करते हुए दावा किया कि इसमें भी खूब दलाली चली. तरीका वही था, बोफोर्स वाला..मिशेल मामा जैसे दलालों को विदेश भगा दिया गया. 

पीएम मोदी ने कहा कि इनको लगा कि यह मामला भी दब जाएगा. लेकिन इनको यह एहसास नहीं था कि चौकीदार आएगा और इनके भगाए हर बिचौलिए को पाताल से ढूंढकर भी लेकर आएगा. 

गोवा ने मजबूर सरकारों का एक लंबा दौर देखा
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल के समय से ही गोवा ने मजबूर सरकारों का एक लंबा दौर देखा है. ऐसी सरकारों, अस्थिर गठबंधनों, दलबदल करने वाले विधायकों की वजह से गोवा के विकास पर भी प्रभाव पड़ा.  वर्ष 1990 से 2000 तक के दस वर्षों में गोवा ने 13 मुख्यमंत्री देखे. अब बीते वर्षों में बीजेपी बहुत मेहनत से गोवा को विकास के एक नए ट्रैक पर लाई है.

पीएम मोदी ने गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को याद करते हुए कहा कि अपने समर्पण भाव से, अपने श्रम से कोई व्यक्ति कैसे  ईमानदारी से जनहित में काम कर सकता है, ये पर्रिकर जी ने करके दिखाया. 

पीएम मोदी ने कहा कि देश का रक्षा मंत्री रहते हुए, देश के सैनिकों के प्रति, राष्ट्र रक्षा के लिए जरूरी फैसलों को लेकर जिस समर्पण भाव से मनोहर पर्रिकर जी ने काम किया, वो अतुलनीय है.