कभी PM मोदी के साथ स्कूटर से घूमकर जुटाते थे BJP के लिए वोट, अब ऐसे पहुंचा रहे नुकसान

तोगड़िया ने अपने दल की ओर से मंगलवार को प्रत्याशियों के नाम का भी ऐलान कर दिया. पूर्व वीएचपी अध्यक्ष ने बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ भी अपने दल का प्रत्याशी उतारने का फैसला लिया है. उन्होंने देशभर में कुल 9 प्रत्याशी उतारने का फैसला लिया है. 

कभी PM मोदी के साथ स्कूटर से घूमकर जुटाते थे BJP के लिए वोट, अब ऐसे पहुंचा रहे नुकसान
प्रवीण तोगड़िया ने बीजेपी को नुुुुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं.

गांधीनगर: विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी) के पूर्व अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) में भारतीय जनता पार्टी को नुकसान पहुंचाने की पूरी तैयारी कर ली है. वीएचपी से अलग होकर दिल्ली में प्रवीण तोगड़िया ने पहले तो अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद संस्था की स्थापना कर कुछ ही दिन पहले हिंदुस्तान निर्माण दल की स्थापना कर बीजेपी को और मोदी सरकार को हिंदू विरोधी सरकार बताकर उन्हें हराने के लिए चुनावी मैदान में उतरने का ऐलान किया है. 

प्रवीण तोगड़िया कई बार जनसभाओं में कह चुके हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके काफी अच्छे दोस्त हैं. शुरुआती दिनों में वे और पीएम मोदी एक ही स्कूटर से गुजरात में विभिन्न जगह जाया करते और पार्टी के लिए काम करते थे. हालांकि पीएम मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से तोगड़िया के रिश्ते उनसे बिगड़ने लगे. वीएचपी के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद तोगड़िया पीएम मोदी के प्रति आक्रामक हो गए हैं. अब उन्होंने बीजेपी को नुकसान पहुंचाने के लिए अपनी पार्टी बनाई है और प्रत्याशी उतारकर नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं.

तोगड़िया ने अपने दल की ओर से मंगलवार को प्रत्याशियों के नाम का भी ऐलान कर दिया. पूर्व वीएचपी अध्यक्ष ने बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ भी अपने दल का प्रत्याशी उतारने का फैसला लिया है. उन्होंने देशभर में कुल 9 प्रत्याशी उतारने का फैसला लिया है. 

अमित शाह गुजरात के गांधीनगर सीट से चुनाव मैदान में हैं. इस सीट पर तोगड़िया की पार्टी ने अमरीश पटेल को टिकट दिया है. यह सीट बीजेपी की पारंपरिक सीट है. यहां से बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से एक आलकृष्ण आडवाणी चुनाव लड़ चुके हैं. आडवाणी को इस बार टिकट नहीं दिया गया है. वे साल 1998 से लगातार इसी सीट से सांसद रहे. 

हालांकि जानकार मानते हैं कि गांधी नगर सीट पर तोगड़िया की पार्टी के प्रत्याशी कांग्रेस को नुकसा पहुंचाएंगे. वहीं हिंदुस्तान निर्माण दल का दावा है कि अमरीश पटेल गुजरात में सीए एसोसिएशन के 3 बार प्रमुख रह चुके हैं. वह 30 साल से प्रवीण तोगड़िया के करीबी हैं. बताया जा रहा है कि अमरीश का पाटीदार समाज में काफी प्रभुत्व है. वह बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को कड़ी टक्कर दे सकते हैं.

प्रवीण तोगड़िया ने इन सीटों पर उतारे प्रत्याशी
अमरीश पटेल: गांधीनगर
ऋषि वेकरिया: अहमदाबाद पूर्व
आर के चौहान: अहमदाबाद पश्चिम 
प्रवीण: कच्छ 
हसमुख़ पटेल: साबरकांठा 
डारजी देकावाडिया: सुरेंद्रनगर
गोपाल मोवलिया: जूनागढ़
विजयसिंह राठौड़: पंचमहल
रामसंग कालारा: दाहोद

इसी के साथ असम के 7, उड़ीसा के 5 और यूपी के 16 प्रत्याशी की घोषणा भी की है. साथ ही तोगड़िया फिलहाल खुद भी चुनावी मैदान में उतरने की भी चर्चा ने ज़ोर पकड़ा है. तोगड़िया की तरफ से भी कहा जा रहा है की 27 मार्च के बाद अन्य सीटों के प्रत्याशी का ऐलान किया जाएगा. साथ ही यह भी तय होगा की तोगड़िया पीएम के सामने बनारस से चुनावी मैदान में उतरेंगे या बनारस से कोई ओर प्रत्याशी होगा.