विंदू ने आईपीएल-6 में सट्टेबाजी में 17 लाख रुपए कमाए

मुंबई क्राइम ब्रांच ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में एक और खुलासा करते हुए कहा कि विंदू दारा सिंह ने आईपीएल-6 में सट्टेबाजी में 17 लाख रुपए कमाए। साथ ही बताया कि विंदू को दो बुकीज को मुंबई से दुबई भगाने में मदद की।

ज़ी मीडिया ब्यूरो
मुंबई: मुंबई क्राइम ब्रांच ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में एक और खुलासा करते हुए कहा कि विंदू दारा सिंह ने आईपीएल-6 में सट्टेबाजी में 17 लाख रुपए कमाए। साथ ही बताया कि विंदू को दो बुकीज को मुंबई से दुबई भगाने में मदद की। सूत्रों के हवाले से यह कहा जा रहा है कि इस मामले में चार और बॉलीवुड की हस्तियां शक के घेरे में हैं।
इस बीच आईपीएल-6 में सट्टेबाजी और फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार अभिनेता विंदू दारा सिंह ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। उनके घर से 2 मोबाइल फोन और एक लैपटॉप बरामद किया गया है। पुलिस को इस मामले में बुकीज संजय और पवन की तलाश है। पुलिस के मुताबिक दोनों बुकीज विंदू दारा सिंह से जुड़े हुए हैं। विंदू को मुंबई क्राइम ब्रांच ने मंगलवार को गिरफ्तार किया था और उनसे इस मामले में पूछताछ जारी है।
सूत्रों के हवाले से यह भी कहा जा रहा है कि इस मामले में बॉलीवुड की चार और हस्तियां भी शक के घेरे में है। एक अभिनेता जो फिल्म निर्माता भी है, वह जांच के घेरे में है। एक फिल्म संगीतकार भी आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में शक के दायरे में है। इस तरह से आईपीएल में फिक्सिंग की फांस अब बॉलीवुड तक जा पहुंची है। उल्लेखनीय है कि आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में विंदू 19वें ऐसे व्यक्ति हैं जिन्हें इस मामले में गिरफ्तार किया गया है।
इस मामले में सबसे पहले राजस्थान रॉयल्स टीम के तीन खिलाड़ी श्रीसंत, अजीत चंदीला, अंकित चव्हाण को कम से कम तीन आईपीएल मैचों में कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग में शामिल रहने के आरोप में 15 मई की रात को गिरफ्तार किया था। श्रीसंत के मित्र जिजू जनार्दन को भी इस मामले में गिरफ्तार किया गया था।