ओडिशा में तैनात थलसेना, वायुसेना और नौसेना के जवान

ओडिशा के गोपालपुर में शनिवार शाम चक्रवाती तूफान ‘फैलिन’ की दस्तक के मद्देनजर थलसेना, वायुसेना, नौसेना और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के जवान राज्य के प्रभावित इलाकों के लिए रवाना होने को कमर कस चुके हैं।

भुवनेश्वर : ओडिशा के गोपालपुर में शनिवार शाम चक्रवाती तूफान ‘फैलिन’ की दस्तक के मद्देनजर थलसेना, वायुसेना, नौसेना और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के जवान राज्य के प्रभावित इलाकों के लिए रवाना होने को कमर कस चुके हैं। राहत और बचाव अभियानों के समन्वय की जिम्मेदारी संभाल रहे जनरल ऑफिसर कमांडिंग (मध्य भारत)
लेफ्टिनेंट जनरल रमेश राणा ने कहा, ‘‘कुछ टुकड़ियां पहले ही रवाना कर दी गयी हैं जबकि पूर्वी एवं मध्य कमान की अन्य टुकड़ियां कभी भी जाने के लिए तैयार हैं।’’
सिग्नल और मेडिकल टीमों से लैस थलसेना की एक इंजीनियरिंग टुकड़ी गोपालपुर में तैनात है। लेफ्टिनेंट जनरल राणा ने कहा कि थलसेना एनडीआरएफ, ओडीआरएएफ, थलसेना की कोशिशों को समन्वित रूप देगी और उनके साथ मिल कर काम भी करेगी।
थलसेना लोगों की मेडिकल जरूरतें पूरी करने के अलावा राहत सामग्री भी मुहैया कराएगी। वह लोगों को सुरक्षित स्थानों तक ले जाने में नागरिक प्रशासन की मदद भी करेगी। भारतीय वायुसेना का नवीनतम सामरिक परिवहन विमान ‘सी-17 ग्लोब मास्टर’ 60 सैनिकों, राहत सामग्री, थलसेना के विशेष वाहनों और एंबुलेंसों से लैस होकर इलाहाबाद से रवाना हुआ है। (एजेंसी)