अब आंखों के लिए स्पेशल ज्वैलरी, पहनें गोल्ड और डायमंड कॉन्टेक्ट लेंस

विश्व में पहली बार भारत में गोल्ड और डायमंड प्लेटेड कॉन्टेक्ट लेंस का इजाद किया गया है.

अब आंखों के लिए स्पेशल ज्वैलरी, पहनें गोल्ड और डायमंड कॉन्टेक्ट लेंस
(मॉडल म्रुणाल गायकवाड़)

प्रज्ञा झा, नई दिल्ली: फैशन की दुनिया बिल्कुल अलग है. यहां सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है, "Something different or new". ब्रांड की पहचान भी इसी से होती है. ब्रांड टैग की वजह से साधारण दिखने वाले सामानों की भी असाधारण कीमत होती है. ऐसे में मुंबई के एक ऑप्टोमेट्रिस्ट ने एक कदम आगे बढ़ते हुए "Never seen before" जैसा कारनामा किया. उन्होंने आंखों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए गोल्ड प्लेटेड कॉन्टेक्ट लेंस का आविष्कार किया. फैशनेबल लोगों में इसका जबरदस्त क्रेज है.

भारत में सोने की बहुत ज्यादा डिमांड रहती है. कोई भी शुभ काम ज्वैलरी के बिना पूरा नहीं होता है. भारत विश्व का दूसरा सबसे ज्यादा सोने का उपयोग करने वाला देश है. सोने के प्रति भारतीयों का क्रेज इतना है कि कई लोग ज्वैलरी के अलावा सोने की दांत तक लगवाने से नहीं हिचकते हैं. इन लोगों के कपड़ों पर भी सोने का काम किया होता है. इन लोगों के लिए यह किसी खुशखबरी से कम नहीं है कि ये अब अपनी आंखों में भी सोने के रंग में रंग सकते हैं.

BEJEWEL YOUR EYES with Gold plated Contact Lenses

मुंबई के एक ऑप्टोमेट्रिस्ट ने गोल्ड प्लेटेड कॉन्टेक्ट लेंस का इजाद किया है. इस लेंस में सोने की बहुत थोड़ी मात्रा इस्तेमाल की गई है. गोल्ड पेस्ट को लेंस की चारों ओर लगाया गया है जिससे यह चमकता है. हालांकि, इसके लिए आपको मोटी रकम चुकानी होगी. इन कॉन्टेक्ट लेंस की कीमत 11 हजार डॉलर ( करीब 8 लाख) तक है.

दुनिया में पहली बार भारत में हुआ इस्तेमाल
इसको लेकर डॉक्टर चंद्रशेखर छवन ने कहा कि इससे पहले दुनिया में कहीं भी गोल्ड कोटेड कॉन्टेक्ट लेंस का इस्तेमाल या निर्माण नहीं किया गया है. इस कॉन्सेप्ट का पेटेंट उनके पास है. अपने इस आविष्कार को लेकर उन्होंने कहा कि हर भारतीय को गोल्ड  बहुत पसंद है. सभी सामाजिक और शुभ काम में हम ज्वैलरी का इस्तेमाल करते हैं. गोल्ड को शुभ माना जाता है. उनलोगों के लिए मैंने आंखों में ही सोने की चमक डाल दी.

कस्टमर की डिमांड पर कस्टमाइज्ड लेंस भी उपलब्ध
उन्होंने कहा कि गोल्ड के अलावा सिल्वर और डायमंड का भी इस्तेमाल किया जा सकता है. यह कस्टमर के ऊपर निर्भर करता है कि वे क्या इस्तेमाल करना चाहते हैं. वे अपने तरीके से इसे कस्टमाइज्ड करवा सकते हैं. मुंबई के एक मॉडल म्रुणाल गायकवाड़ ने कहा कि मैं पिछले चार सालों से गोल्ड कॉन्टेक्ट लेंस का इस्तेमाल कर रही हूं, लेकिन मुझे आज तक किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई है. कई लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं जिन्होंने अभी तक कोई शिकायत नहीं की है.