पाकिस्तानः बीमार नवाज शरीफ से जेल में मिलने पहुंचा परिवार, जाना हालचाल

जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिवार वालों ने उनसे कोट लखपत जेल में मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता व्यक्त की . 

पाकिस्तानः बीमार नवाज शरीफ से जेल में मिलने पहुंचा परिवार, जाना हालचाल
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (फाइल फोटो)

लाहौर: जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिवार वालों ने उनसे कोट लखपत जेल में मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता व्यक्त की . शरीफ (69) पिछले साल दिसम्बर से जेल में बंद हैं. नवाज को अल-अजीजिया स्टील मिल्स भ्रष्टाचार मामले में सात साल की सजा हुई है.

डॉक्टरों के साथ पहुंचा था परिवार
नवाज के भाई और विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ मां शमीम बीबी, नवाज की बेटी मरियम और निजी डॉक्टर अदनान के साथ जेल पहुंचे. ‘पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज’ (पीएमएल-एन) के प्रमुख की बेटी मरियम ने मुलाकात के बाद ट्वीट किया कि लगातार सीने में दर्द (एन्जाइना) के कारण वह अस्वस्थ हैं.

मरियम ने मुलाकात के बाद किया ट्वीट
उन्होंने लिखा, ‘‘ अभी बाहर आई हूं. एमएनएस (मियां नवाज शरीफ) लगातार सीने में दर्द के कारण अस्वस्थ हैं. आज भी मुलाकात के दौरान उन्होंने दर्द एवं सांस लेने में तकलीफ होने की वजह से ‘सब्लिंगुअल स्प्रे’ का इस्तेमाल किया. कृपया रोजाना दुआओं में उनको याद करें. सबका शुक्रिया.’’ ‘दुनियान्यूज.टीवी’ की एक खबर के अनुसार, तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे नवाज के लिए उनका परिवार खाना भी लाया था.

मां ने मांगी सलामती की दुआ
रिपोर्ट के अनुसार नवाज के रक्त शर्करा और रक्तचाप का परीक्षण भी किया गया, जिसके बाद उनके निजी डॉक्टर ने दवाईयों में मामूली बदलाव भी किया. समाचारपत्र ‘डॉन’ की एक खबर के अनुसार, पार्टी का कोई अन्य नेता उनसे मिलने नहीं पहुंचा. उनकी बेटी मरियम ने कुछ समय पहले घोषणा की थी कि खराब स्वास्थ्य के कारण नवाज किसी से मुलाकात नहीं करेंगे. पीएमएल-एन के अन्य नेता हालांकि जेल के बाहर एकत्रित हुए और परिवार के वहां पहुंचने पर नारेबाजी भी की. नवाज से मिलने के बाद उनकी मां ने उनके मुश्किल समय के जल्द खत्म होने की उम्मीद जाहिर की. समाचार पत्र ने उनकी मां के हवाले से कहा, ‘‘ मेरी दुआएं मेरे बेटे के साथ हैं और वह जल्द ही जेल से रिहा हो जाएंगे.’’

इमरान खान की सरकार पर लगाए गंभीर आरोप
मीडिया में आई खबरों के मुताबिक जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने संघीय सरकार पर आरोप लगाया है कि वह जान-बूझकर दिल से जुड़ी उनकी बीमारी के इलाज में रोड़े अटका रही है. शरीफ के भाई एवं पीएमएल-एन अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने कहा कि तीन बार प्रधानमंत्री रहे शरीफ की जिंदादिली बनी हुई है, लेकिन उन्हें अब भी तत्काल चिकित्सकीय इलाज की जरूरत है. 

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने शहबाज के उद्धृत करते हुए कहा, 'उन्होंने (शरीफ) बताया कि जिस चिकित्सक ने पूर्व में उनका परीक्षण किया था, उसने कहा था कि उन्हें सिर्फ उनके स्वास्थ्य की जांच और उसे प्रमाणित करने के लिये भेजा जाता है. डॉक्टरों ने कहा कि उन्हें इलाज शुरू करने को लेकर कोई आदेश नहीं है.'