close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 Eng vs Pak : पाकिस्तान के ये खिलाड़ी ले सकते हैं इंग्लैंड की अग्निपरीक्षा

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के पहले सेमीफाइनल मैच में आज मेजबान इंग्लैंड और पाकिस्तान आमने-सामने होंगे. पाकिस्तान ने सोमवार को ग्रुप-बी के अंतिम मैच में रोमांचक मुकाबले में श्रीलंका को तीन विकेट से हराते हुए सेमीफाइनल का टिकट हासिल किया. वहीं, इंग्लैंड ने ग्रुप दौर में अजेय रहते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया. 

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 Eng vs Pak : पाकिस्तान के ये खिलाड़ी ले सकते हैं इंग्लैंड की अग्निपरीक्षा
पाकिस्तान के ये खिलाड़ी पलट सकते हैं मैच का रुख

नई दिल्ली : आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के पहले सेमीफाइनल मैच में आज मेजबान इंग्लैंड और पाकिस्तान आमने-सामने होंगे. पाकिस्तान ने सोमवार को ग्रुप-बी के अंतिम मैच में रोमांचक मुकाबले में श्रीलंका को तीन विकेट से हराते हुए सेमीफाइनल का टिकट हासिल किया. वहीं, इंग्लैंड ने ग्रुप दौर में अजेय रहते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया. 

पाकिस्तान की टीम बेशक कमजोर दिखाई पड़ रही हो लेकिन उनके पास ऐसे खिलाड़ियों की कमी नहीं है जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहचान बना चुके हैं, जिनकी आक्रामक बल्लेबाजी को क्रिकेट प्रेमी भली भांति जानते हैं. टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो जब चाहें मैच का पासा पलट सकते हैं. पाकिस्तान के तेज गेंदबाज जुनैद खान, मोहम्मद आमिर, फहीम अशरफ, हसन अली और स्पिन गेंदबाज इमाद वसीम इंग्लैंड की मजबूत बल्लेबाजी की भी परीक्षा ले सकते हैं. 

पाकिस्तान चाहेगा कि उनके ये खिलाड़ी सेमीफाइनल में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें. इंग्लैंड को चौंका देने वाले इन खिलाड़ियों पर एक नजर डालते हैं:

मोहम्मद हफीज़

188 एक दिवसीय मैचों का अनुभव रखने वाले मोहम्मद हफीज़ की बल्लेबाजी के जौहर देख चुका है क्रिकेट जगत. वह एक दिवसीय क्रिकेट में 5788 रन बना चुके हैं. उनका अधिकतम स्कोर 140 नॉट आउट है. वह 11 शतक और 31 अद्र्धशतक लगा चुके हैं. जाहिर है वे अपनी क्षमताएं साबित कर चुके हैं. बेशक चैंपियंस ट्रॉफी में उनकी बल्लेबाजी फीकी रही है, लेकिन वे कभी भी फॉर्म में आ सकते हैं. उनका फाॅर्म में आना पाकिस्तान के लिए खतरे की घंटी बन सकता है. हफीज एक बेहतरीन गेंदबाज भी हैं. अब तक 133विकेट भी ले चुके हैं. हफीज का प्रदर्शन पाकिस्तान के लिए फाइनल की राह खोल सकता है. 

अजहर अली

ओपनिंग बल्लेबाज अजहर अली चैंपियंस ट्रॉफी के तीन मैचों में सर्वाधिक 93 रन बना चुका है. लेकिन वह इससे कहीं ज्यादा क्षमतावान खिलाड़ी है. लंबी पारी खेलने की उनके भीतर क्षमता है. यदि एक बार अजहर अपने नेचुरल कलर में आ गया तो इंग्लैंड के लिए सिरदर्द साबित हो सकता है. अजहर की खास बात यह है कि वह तकनीकी रूप से भी एक मजबूत बल्लेबाज है और आक्रामकता भी उनके भीतर है. पाकिस्तान चाहेगा कि अजहर अली इंग्लैंड के खिलाफ अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करें. 

मोहम्मद बाबर आजम

23 वर्षीय बाबर आजम अभी युवा हैं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का लंबा अनुभव उनके पास नहीं है. फिर भी वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी छाप छोड़ चुके हैं. 29 एक दिवसीय खेल चुके बाबर आजम ने 3 बार नॉट आउट रहते हुए 1371 रन बनाए हैं. उनका अधिकतम स्कोर 125 नॉट आउट है और उनका औसत 52.73 है. यानी हर परिस्थिति में वह खेल सकते हैं. यदि बाबर आजम का बल्ला सेमीफाइनल में चला तो पाकिस्तान को फाइनल में पहुंचने से कोई नहीं रोक सकता.  

सरफराज अहमद

पाकिस्तान टीम के कप्तान और विकेट कीपर सरफराज अहमद चैंपियंस ट्रॉफी की तीन पारियों में 76 रन बना चुके हैं. श्रीलंका के खिलाफ कठिन परिस्थितियों में खेली उनकी पारी (61 नॉट आउट) ने ही पाकिस्तान के लिए सेमीफाइनल की राह खोल दी. सरफराज चाहेंगे कि उनकी कप्तानी में पाकिस्तान फाइनल तक अवश्य पहुंचे. इसलिए वह पूरी कोशिश करेंगे बेहतर परफोर्म करने की. 

हसन अली

हसन असन अली दायें हाथ के मध्यम तेज गति के गेंदबाज हैं. 23 वर्षीय हसन ने अब तक 19 एक दिवसीय मैच खेले हैं. अबतक वह 36 विकेट ले चुके हैं. उनकी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी 38 रनों पर 5 विकेट है. चैंपियंस ट्रॉफी में भी वह पाकिस्तान की ओर से सबसे अधिक 7 विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं. उनका रन औसत भी काफी अच्छा है. पाकिस्तान चाहेगा कि हसन अली इंग्लैंड के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी करें और पाकिस्तान के लिए फाइनल की राह खोलें.