कनेरिया को मिलती थी हिंदू होने की सजा, शोएब ने किया खुलासा; जवाब आया - सच बोलने के लिए शुक्रिया!

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक चैट शो में सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि उनकी टीम के साथी और पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया के साथ दुर्व्यवहार किया जाता था. 

कनेरिया को मिलती थी हिंदू होने की सजा, शोएब ने किया खुलासा; जवाब आया - सच बोलने के लिए शुक्रिया!
दानिश ने शोएब का शुक्रिया अदा किया.

नई दिल्ली: पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक चैट शो में सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि उनकी टीम के साथी और पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया के साथ दुर्व्यवहार किया जाता था. इस दुर्व्यवहार की वजह उनका हिंदू होना था. शोएब के इस खुलासे के बाद जब दानिश ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उन्होंने (शोएब अख्तर ने) जो कुछ भी कहा, वह बिल्कुल सत्य है. 

दानिश ने शोएब का भी शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा, "मैं शोएब भाई के बयान के लिए बहुत अहसानमंद हूं. जो कुछ भी उन्होंने कहा, वह सौ फीसदी सच है. मैंने कभी भी उनके लिए कुछ नहीं कहा, फिर भी वह मेरे समर्थन में आए. आपके इस बहादुरीपूर्ण कार्य के लिए आपका शुक्रिया." कनेरिया ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा, "मैं अब उन खिलाड़ियों के नाम का खुलासा करूंगा जो मेरे खाना नहीं खाते थे क्योंकि मैं हिंदू हूं. मेरे पास इस सच्चाई को सामने रखने का साहस नहीं था लेकिन अब मैं सच चुप नहीं रहूंगा. शोएब अख्तर के बयान के बाद अब मैं सच को सामने रखूंगा." 

कनेरिया ने कहा कि युनूस खान, इंजमाम-उल-हक, मोहम्मद युसुफ और अख्तर ने हमेशा उसके साथ अच्छा व्यवहार किया और धर्म के आधार पर कभी भेदभाव नहीं किया. पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया पाकिस्तान टीम की ओर से खेलने वाले दूसरे हिंदू थे. इससे पहले, अनिल दलपत पाकिस्तान टीम का हिस्सा रह चुके हैं. दानिश कनेरिया, दलपत के भतीजे हैं. उन्होंने पाकिस्तान के लिए 61 टेस्ट में 261 और 18 वनडे में 15 विकेट हासिल किए हैं. वह पाकिस्तान की ओर से टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में चौथे स्थान पर हैं. 

सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा
जैसे ही दानिश कनेरिया के साथ हिंदू होने के चलते भेदभाव की खबर मीडिया में सामने आई, भारत के लोगों ने तीखी प्रतिक्रिया दी. सोशल मीडिया पर दानिश कनेरिया टॉप ट्रेंड में शामिल हो गए. लोगों ने पाकिस्तान को जमकर खरी-खोटी सुनाई. वहीं, शोएब अख्तर को लोगों को इस सच्चाई को सामने लाने के लिए शुक्रिया अदा किया. 

बीजेपी प्रवक्ता अमित मालवीय ने अपने एक ट्वीट में कहा, "अगर दानिश कनेरिया जैसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर से हिंदू होने के कारण पाकिस्तान में इस तरह का दुर्व्यवहार किया जाता है तो हमारे पड़ोसी देश में एक आम गैर-मुस्लिम की दुर्दशा का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है. यदि नागरिकता कानून ऐसे पीड़ित लोगों को भारत में शरण देता है तो फिर कांग्रेस, मुस्लिम समुदाय के लोग इसका विरोध क्यों कर रहे हैं?