IPL-12: गौतम गंभीर ने कोहली को बताया नौसिखिया कप्तान, कहा- उन्हें अभी और सीखने की जरूरत

गौतम गंभीर ने कहा कि विराट कोहली को गेंदबाजों पर हार का दोष मढ़ने की बजाय इसकी जिम्मेदारी खुद लेनी चाहिए. 

IPL-12: गौतम गंभीर ने कोहली को बताया नौसिखिया कप्तान, कहा- उन्हें अभी और सीखने की जरूरत
गौतम गंभीर और विराट कोहली. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: विराट कोहली की कप्तानी के आलोचकों में शुमार गौतम गंभीर ने एक बार फिर उन पर निशाना साधा है. विराट कोहली, इंडियन टी20 लीग (आईपीएल) में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू की कप्तानी करते हैं. बेंगलुरू की टीम आईपीएल के इस सीजन में अपने सभी छह मैच हार चुकी है. बेंगलुरू को रविवार को दिल्ली के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. इसके बाद टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने विराट को आड़े हाथों लिया. गंभीर ने विराट के कई फैसलों की आलोचना करते हुए उन्हें नौसिखिया कप्तान तक बता दिया. 

आईपीएल में कोलकाता की कप्तानी कर चुके गंभीर का कहना है कि विराट खिलाड़ी के तौर पर भले ही शानदार हैं, लेकिन कप्तानी के मामले में वे नौसिखिए हैं. गंभीर ने टाइम्स ऑफ इंडिया में लिखे कॉलम में कहा कि विराट को हार का बहाना बनाने की बजाय इसकी जिम्मेदारी खुद लेनी चाहिए. गंभीर ने लिखा, ‘विराट कोहली बेहतरीन बल्लेबाज हैं, लेकिन कप्तानी के मामले में नौसिखिया हैं. उन्हें गेंदबाजों पर हार का दोष मढ़ने की बजाय इसकी जिम्मेदारी खुद लेनी चाहिए.’ 

यह भी पढ़ें: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान की BCCI को सलाह, अब विराट कोहली को रेस्ट दो

आईपीएल जीतने वाले चुनिंदा कप्तानों में शामिल गौतम गंभीर ने आईपीएल की नीलामी का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि बेंगलुरू की टीम ने नाथन कूल्टर नाइल और मार्कस स्टोयनिस को क्यों खरीदा, जबकि पता था कि टूर्नामेंट की शुरुआत में ये दोनों खिलाड़ी मौजूद नहीं रहेंगे. गंभीर ने कहा कि एम चिन्नास्वामी स्टेडियम छोटा है और विकेट सपाट है. ऐसे में आपको तेज गेंदबाजों को लेना चाहिए.

इससे पहले गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा था कि विराट कोहली खुशकिस्मत हैं कि वे इतनी हार के बावजूद बेंगलुरू के कप्तान बने हुए हैं. उन्होंने इस टीम के लिए एक भी खिताब नहीं जीता है. अगर टीम प्रबंधन इसके बावजूद उन पर भरोसा बनाए हुए है तो यह खुशकिस्मती की बात है. गंभीर की इस आलोचना पर कोहली ने कहा था कि उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैदान से बाहर कोई व्यक्ति उन्हें कैसे जज कर रहा है. उनका काम मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करना है और वे इसके लिए पूरी कोशिश करते हैं.